आप ‘मार्गदर्शन’ को ग्रहण कर अपना भविष्य समुन्नत करें

प्रियवर विद्यार्थीवृन्द!

‘दैनिक जागरण’ में ‘नई राहें’ पृष्ठ पर सोमवार को मुद्रित पाक्षिक स्तम्भ ‘मार्गदर्शन’ के अन्तर्गत आपकी शैक्षिक, सामाजिक तथा मनोवैज्ञानिक समस्याओं का निराकरण और शंकाओं का सहज व्यावहारिक समाधान प्रेरक शब्दों में किया जाता है।

आपको गन्तव्य मार्ग पर बढ़ते समय किस प्रकार के अवरोध अथवा किन प्रकार के अवरोधों का सामना करना पड़ता है, यहाँ लिखिए। आप अपने उन दुर्बल पक्षों का यहाँ उल्लेख करें, जिनके कारण आपका प्रगतिपथ प्रशस्त नहीं हो पा रहा है।

हम उक्त प्रकार की आपकी प्रत्येक जटिलता को दूर करने के लिए आपको निराकरण-निदानपरक मार्ग दिखायेंगे; उस पर चलना आपको है।
सारस्वत पथ पर अग्रसर रहें।

एक अदृश्य गुरु

url and counting visits