सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

उत्तर भारत में सर्दी का सितम जारी

देश की राजधानी सहित समूचे उत्तर भारत में सर्दी का सितम जारी है। मैदानी इलाकों में जहां हाड़ कंपा देने वाली हवाएं चल रही हैं तो पहाड़ी क्षेत्रों में भारी बर्फबारी हो रही है। कश्मीर घाटी के ज्यादातर हिस्सों में बर्फबारी की वजह से पारा गिर गया है। मौसम विभाग ने घाटी के विभिन्न हिस्सों में अगले दो दिनों तक बर्फबारी और बारिश की संभावना जताई है। श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग लगातार दूसरे दिन भी वाहनों के लिए बंद है। राजमार्ग से बर्फ हटाने का काम चल रहा है।
हिमाचल में भी बर्फबारी और सर्दी से राहत नहीं है। राजधानी शिमला का तापमान माइनस 0.3 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। प्रदेश के अन्य जिलों में तापमान में सुधार देखने को मिला है। हिमाचल में अगले दो दिनों तक बारिश और बर्फबारी की संभावना है। बर्फबारी और सर्दी के चलते लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में ठंड के बढ़े तेवर से लोग ठिठुरते नजर आ रहे हैं। मंगलवार सुबह सर्द हवाओं के चलते दिल्ली के न्यूनतम तापमान में एक डिग्री की कमी देखने को मिली। न्यूनतम तापमान छह डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से एक डिग्री सेल्सियस नीचे है। उत्तर प्रदेश में पिछले एक सप्ताह से चल रही शीतलहर का दौर अब कम हो गया है। रात में ठंड पड़ रही है, लेकिन दिन में पारा सामान्य स्थिति में पहुंच गया है, जिससे लोगों को काफी राहत मिली है। हालांकि मौसम विभाग ने राज्य के कुछ इलाकों में बूंदाबांदी की भी संभावना जताई है। हरियाणा में सर्दी कम होने का नाम नहीं ले रही है। कड़ाके की सर्दी और शीतलहर के बीच छोटे-छोटे स्कूली बच्चे स्कूल जाने को मजबूर हैं। अभिभावकों ने स्कूलों में छुट्टियों की मांग की है। उत्तराखंड में भी बर्फबारी और सर्दी से लोग परेशान हैं। राज्य के मैदानी इलाकों में सर्दी के साथ कोहरे का कहर है। राजस्थान में दो दिन मामूली राहत देने के बाद सर्दी ने एक बार फिर तेवर दिखाना शुरू कर दिया है। पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी बढ़ने से समूचे राजस्थान में सर्द हवाएं चल रही हैं। रात होते-होते हवा गलन को और बढ़ा रही है। सर्दी बढ़ने से तापमान में तेज़ी से गिरावट दर्ज हुई है। माउंट आबू में पारा फिर जमाव बिंदु पर आ गया है। नलों में पानी जम गया है और सर्द हवाएं लगातार अपना सितम ढा रही हैं। मौसम विभाग की मानें तो आने वाले कुछ दिनों में उत्तर भारत को ठंड से निजात नहीं मिलने वाली है। कुल मिलाकर पहाड़ से लेकर मैदान तक सर्दी और बर्फबारी की चपेट में है। बर्फबारी से पर्यटकों के चेहरे खिले हुए हैं क्योंकि लंबे समय बाद ऐसी बर्फबारी देखने को मिल रही है। हालांकि दिक्कतें भी कम नहीं हैं, खासकर बिजली पानी और सडकें बंद होने से पर्यटकों की खुशी काफूर हो रही है।