ठेके की आड़ में गुण्डई और अवैध वसूली की इज़ाजत किसी दशा में नहीं

तत्कालीन नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना द्वारा बदायूं भ्रमण के दौरान अधिशासी अधिकारियों व अध्यक्षों के साथ बैठक के दौरान स्पष्ट रूप से निर्देश दिए गए थे कि पार्किंग शुल्क अवैध रूप से जो वसूल किया जा रहा वसूल न किया जाए। इसके बावजूद भी कुछ नगरपालिका और नगर पंचायतों में अभी भी शिकायतें प्राप्त हो रही है। आज भी उझानी में इस तरह की शिकायत प्राप्त होने पर नगर पालिका ईओ और थाना प्रभारी उझानी को कड़े निर्देश दिए गए कि इस प्रकार की कोई वसूली करे तो उसके खिलाफ एफ आई आर दर्ज करके कानूनी कार्रवाई करें । किसी भी नगर पालिका परिषद नगर पंचायत में इस तरह की वसूली करते हुए पाया गया उसके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद उझानी द्वारा अवगत कराया है उन्होंने ठेकेदार को ठेके की धनराशि वापस करने से समबन्धित चेक बना लिया है जो ठेकेदार को दिया जाएगा। ठेके की आड़ में गुंडई और अवैध वसूली की इजाजत किसी दशा में नहीं दी जाएगी । संबंधित थानाध्यक्ष भी जिम्मेदार होंगे जिनके थानों में इस प्रकार की वसूली होगी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा भी इंस्पेक्टर उझानी को कड़े निर्देश माननीय मंत्री जी के निर्देशों का अनुपालन करने के लिए गए दिए गए हैं।

url and counting visits