सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

डिजिटल लेनदेन के लिए भारत इंटरफेस फॉर मनी (भीम) मोबाइल एप की शुरूआत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों से नए साल में डिजिटल लेनदेन अपनाने का आग्रह किया है। उन्होंने डिजिटल लेनदेन आसान करने के लिए कल भारत इंटरफेस फॉर मनी – भीम मोबाइल एप की शुरूआत की। नई दिल्‍ली में तालकटोरा स्‍टेडियम में डिजिधन मेले में श्री मोदी ने कहा कि स्‍वदेश में विकसित इस नये एप भीम का नाम भारतीय संविधान के मुख्‍य शिल्‍पी डॉक्‍टर भीमराव आम्‍बेडकर के नाम पर रखा गया है।

आने वाले दिनों में देखना कि सारा कारोबार जैसे हम पहले नोट या सिक्‍कों से करते थे। वो दिन दूर नहीं होगा जब यह सारा कारोबार इस भीम ऐप के द्वारा चलने वाला है। बाबा साहब अम्‍बेडकर का नाम सारी अर्थव्‍यवस्‍था के अंदर यह भीम ऐप के द्वारा सेंटर स्‍टैज में आने वाला है। श्री मोदी ने कहा कि डॉक्‍टर आम्‍बेडकर का मंत्र था कि गरीबों के विकास के लिए कार्य किया जाए और तकनीकी की सबसे बड़ी ताकत यह है कि वह गरीबों का सशक्तिकरण कर सकती है। प्रधानमंत्री ने कहा कि अभी तक निरक्षर लोगों को अंगूठाछाप कहा जाता था, लेकिन अब यही अंगूठा लोगों की पहचान और बैंक बन गया है। आने वाले दो सप्‍ताह के भीतर-भीतर एक और काम हो रहा है, जिसकी सिक्‍योरिटी, चैकिंग की व्‍यवस्‍था चल रही है वो आने के बाद तो ये भीम की ताकत ऐसी होगी कि आपको न मोबाइल फोन की जरूरत पड़ेगी न इंटरनेट की जरूरत पड़ेगी सिर्फ आपका अंगूठा काफी है। आप ही का अंगूठा आपकी बैंक, आप ही का अंगूठा आपका कारोबार।