संजय सिंह, सांसद, आप ने पेयजल एवं स्वच्छता मिशन पर उठाए सवाल! | IV24 News | Lucknow

तेजी से बढ़ रही अवैध कोचिंग सेंटरों की संख्या, होती है मनमानी वसूली

अभिषेक सिंह (सह संपादक)-


सुलतानपुर – 29 नवम्बर – जिले में अवैध कोचिंग सेंटरों की संख्या तेजी से बढ़ रही है । रिहायशी इलाकों में खुले आम अवैध कोचिंग का बाजार फलफूल रहा है जिसका खामियाजा आस पास के लोगों को भुगतना पड़ता है । अवैध कोचिंग सेंटरों के संचालक प्रशासन को राजस्व में चपत ही नहीं लगाते वरन मनमानी रवैये के कारण आम जन जीवन अस्त-व्यस्त हो जाता है । जिम्मेदार लोगों का ध्यान इस और नहीं जा रहा है ।


रोड पर खड़े कराते हैं छात्रों के वाहन


सुलतानपुर – निराला नगर निवासी विकास तिवारी ने कहा की अवैध कोचिंग संचालक अपने घरों पर कोचिंग चलाते हैं और सड़क पर ही पार्किंग कराते है । जिससे हमेशा जाम की स्थित बनी रहती है । आवागमन बाधित हो जाता है । शिकायत करने पर कोचिंग संचालक झगड़ा करने पर उतारू हो जाते हैं । बहुत बड़ी समस्या होती है ।


गलियों में चलना होता है दूभर


सुलतानपुर – शास्त्री नगर निवासी बिनीता शुक्ल ने कहा की अवैध कोचिंग संचालकों ने जीना दूभर कर दिया है । दिन भर रास्ते में बड़ी संख्या में लडके कोचिंग के कारण खड़े रहते है । लड़कियों तथा महिलाओं का आना जाना बहुत कठिन हो जाता है । कई लडके बहुत दुष्ट भी होते है । ऐसे में बड़ी समस्या खड़ी हो जाती है ।


बच्चों को कोचिंग के लिए करते है मजबूर


सुलतानपुर – दरियापुर निवासी आफताब ने कहा की स्कूली शिक्षक बच्चों को ट्यूशन और कोचिंग के लिए मजबूर करते हैं । कोचिंग न करने वाले बच्चों के साथ शिक्षक स्कूल में सौतेला व्यवहार करते हैं और ऐसे बच्चों को नंबर भी कम दिया जाता है । यह बहुत बड़ी समस्या है ।


मनमानी वसूली करते है संचालक


सुलतानपुर – विवेक नगर निवासी विभोर पाण्डेय ने कहा की अवैध कोचिंग संचालक पूरी तरह से निर्भीक होकर धंधा चला रहे है । तमाम तरह की लुभावनी स्कीमें चला कर लुभाते है और मनमानी फी वसूलते है । जिस पर रोक लगाना बहुत जरुरी है । नहीं तो राजस्व को तो नुक्सान होगा ही आम आदमी भी बहुत परेशान होगा ।