सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

माधौगंज वालों ने कलेक्ट्रेट में दिया धरना और ज्ञापन, कहा “रोड नहीं तो वोट नहीं”

अंतर्ध्वनि एन इनर वॉइस-


दरअसल माधौगंज विकास क्षेत्र के मोहब्बतपुर, ठठिया, गढ़ी, बलेहरा, टड़वा, धानीखेड़ा, सुल्तानपुरवा, हरिपुरा गांव को जोड़ने वाले लिंक रोड का पुरसाहाल नहीं है। इन गांवों की 15 से 20,000 की आबादी क्षेत्रीय जन प्रतिनिधियों के खोखले वादों से आजिज आ चुकी है। लोकसभा चुनाव में भाजपा उम्मीदवार रहीं अंजू बाला ने सम्पर्क मार्ग बनवाने का वादा किया लेकिन जीतने के बाद मुड़कर नहीं देखा।

इस मसले पर आज क्षेत्रीय लोगों ने विशाल जायसवाल की अगुवाई में कलेक्ट्रेट में धरना देकर प्रदर्शन किया। विशाल ने बताया कि कई बार उच्चाधिकारियों व जन प्रतिनिधियों को प्रार्थना पत्र देकर सम्पर्क मार्ग की खराब हालत बयां की। इसके बाद भी लोग खड़ंजे तक के लिए भटक रहे हैं। मार्ग पर भारी कीचड़ व गड्ढे हैं और लोग आए दिन हादसे के शिकार होते हैं। कई बार जान पर भी बन आती है। लेकिन जन प्रतिनिधि और अधिकारी आंख-कान बंद किए हैं। धरना-प्रदर्शन में इंद्रपाल वर्मा, अनिल अवस्थी बलेहरा, मोईन, अमरपाल, महेश प्रसाद, प्रकाश चन्द्र, हरिश्चन्द्र, शिवपाल, मोनू यादव, राधेश्याम यादव, पंकज कुमार, विजय कुमार, अवनीश सिंह, इन्द्रपाल, रामपाल, शिवराम, रामदास, वीरपाल सिंह और जयपाल सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण शामिल रहे।