सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

वोट की राजनीति के चलते दलितों और पिछड़े वर्गों के विकास को नजरअंदाज नहीं कर सकते

भारतीय जनता पार्टी ने कहा है कि बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती दलितों के नाम पर भ्रष्‍टाचार को नहीं छिपा सकती। पार्टी के वरिष्‍ठ नेता और केन्‍द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने नई दिल्‍ली में पत्रकारों से कहा कि वोट की राजनीति के चलते कोई भी राजनैतिक पार्टी दलितों और पिछड़े वर्गों के विकास को नजरअंदाज नहीं कर सकते। दलित विकास भ्रष्‍टाचार का पर्याय नहीं बनना चाहिए। द डेवलपमेंट ऑफ द सिडियूलकास्‍ट पीपुल्‍स, दी ट्राइब पीपुल सुड नॉट बी र्मोगेजड टू करप्‍शन  ऑफ वन पार्टी ऑर लीडर। ये बात हम बहुत विनम्रता से कहना चाहेंगे। इस देश के दलितों का विकास होना चाहिए। हमारी सरकार स्‍वयं इस दिशा में बहुत प्रयास कर रही है।

श्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सुश्री मायावती ने प्रधानमंत्री के खिलाफ जो आरोप लगाये हैं, वे राजनीति से प्रेरित हैं। श्री प्रसाद ने दावा किया कि नोटबंदी के मुद्दे पर उत्‍तर प्रदेश की जनता नरेन्‍द्र मोदी सरकार के साथ है और वह राज्‍य में सत्‍ता परिवर्तन चाहती है। इससे पहले सुश्री मायावती ने केन्‍द्र पर प्रवर्तन निदेशालय के दुरूपयोग के आरोप लगाये थे। प्रवर्तन निदेशालय ने कल बसपा के बैंक खातों में भारी मात्रा में नकदी जमा करने का मामला पाया था। सुश्री मायावती का दावा है कि यह रकम नोटबंदी से पहले पार्टी के लोगों ने जमा की थी। बीएसपी ने अपने नियमों के मुताबिक ही अपनी एकत्रित हुई धनराशि को एक रूटिन प्रक्रिया के तहत ही इसे बैंक में जमा कराया है।