सई नदी को जीवित रहने के उम्मीद बढ़ी


स ई नदी जनपद के 11 विकास खण्डो से 180 किलोमीटर की दूरी में फैली हैः-आनन्द कुमार
स्थायी गोवंश आश्रय स्थलो में बुनियादी जरूरतो को तुरन्त पूरा किया जायेः-पुलकित खरे

जनपद के 11 विकास खण्डो से 180 किमी की लम्बाई लेते हुए गुजरने वाली सई नदी के अस्तित्व को बचाने के लिए तथा भूगर्भ जल के स्तर को उठाने के लिए सई नदी के दोनो किनारो तथा बीच नदी में जमा सिल्ट को हटाने का कार्य मनरेगा द्वारा किया जा रहा है। इस अभियान के अन्तर्गत महुईपुरी/मंगोलापुर से गुजरने वाली सई नदी पर किये जा रहे कार्य का भी निरीक्षण किया। उन्होने ग्राम प्रधान एवं ग्राम रोजगार सेवक द्वारा लगाये गये मनरेगा के अन्तर्गत मजूदरो में से कम मजदूर होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए तत्काल मजूदरों की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिये। नदी के दोनो किनारो पर किये जा रहे कार्य से पूर्व लेखपाल को निर्देशित
कर तत्काल मजूदरों की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिये। नदी के दोनो किनारो पर किये जा रहे कार्य से पूर्व लेखपाल को निर्देशित किया कि नदी के किनारो पर स्थित खेतो की पैमाईश कराते हुए कार्य कराये।

url and counting visits