1893 ई. में अमेरिका के शिकागो में स्वामी विवेकानंद के दिए गए भाषण के 125 वर्ष पूरे

राघवेन्द्र कुमार राघव-


1893 ई. में अमेरिका के शिकागो में स्वामी विवेकानंद के दिए गए भाषण के 125 वर्ष पूरे होने के मौके पर स्वामी विवेकानंद जी की शिक्षाओं को अपनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज देश के युवाओं का आह्वान किया । युवाओं से श्री मोदी ने कहा कि नये भारत के निर्माण के लिए हमें विवेकानन्द के दिखाए रास्ते पर चलना होगा । प्रधान मन्त्री ने कहा कि दुनिया ने अगर सवा सौ साल पहले शांति एवं भाईचारे के विवेकानन्द जी के संदेश को अपनाया होता तो शक्तिशाली अमेरिका की धरती पर 9/11 की विनाशकारी घटना न घटती । स्वामी विवेकानंद के शिकागों में दिए गए भाषण के 125 वर्ष पूरे होने और दीन दयाल उपाध्याय की जन्मशती के अवसर पर श्री मोदी ने दीन दयाल शोध संस्थान द्वारा यहां आयोजित छात्र सम्मेलन को संबोधित करते हए यह आह्वान किया । स्वामी विवेकानंद जी ने अल्पायु में ही दुनिया को प्रेम, शांति और भाईचारे की राह दिखायी । स्वामी जी ने भारत की संस्कृति और विरासत से विश्व को परिचित कराया था । मोदी जी ने विवेकानंद जी की कुरीतियों से लडने और सिर्फ पूजा -पाठ की जगह जनसेवा करने की सलाह को भी सभी से अपनाने की गुजारिश की । मालूम हो कि स्वामी जी ने अमेरिका के शिकागो में भारतीय दर्शन और संस्कृति का पक्ष लेते हुए ऐसा भाषण दिया कि सारा संसार भारत की संस्कृति और धर्म के प्रति नतमस्तक हो गया । आधुनिक भारत में स्वामी जी ने ही देश की संस्कृति और धर्म का समन्वय कर विश्व को हमारे प्रति श्रद्धाभाव रखने को प्रेरित किया । देश में और देश के युवाओं के मन-मानस में विवेकानन्द जी सदैव ज्योतिप्रभा बनकर मुस्कराते रहेंगे ।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


url and counting visits