संजय सिंह, सांसद, आप ने पेयजल एवं स्वच्छता मिशन पर उठाए सवाल! | IV24 News | Lucknow

मत्स्यपालन हेतु आबंटित तालाब में दबंगों ने डाली सिघाड़े की बेल, कीटनाशक डालने से मछलियाँ मरी

सिघाड़े की बेल पर दवा के प्रयोग से मछलियाँ मरने पर अध्यक्ष ने दर्ज कराई एफआईआर

गौसगंज : थाना कासिमपुर के अंतर्गत सहकारी समिति लिमिटेड तेरवा दहिगंवा के मत्स्य पालन हेतु आवंटित तालाब में दबंगों ने अवैध रूप से उक्त तालाब में सिंघाड़े की बेल डाल दी थी। वही दबंग तालाब माफियाओं ने सिंघाड़े की फसल में विषैला रासायनिक पदार्थ डालकर मछलियां मार दी हैं। जिसको लेकर मत्स्य जीवी सहकारी समिति लिमिटेड तेरवा दहिंगवा के अध्यक्ष संतोष कुमार की तहरीर पर पांच लोगों के खिलाफ कासिमपुर थाने में मामला दर्ज कर दिया गया।

बताते चलें सहकारी समिति लिमिटेड तेरवा दहिंगवा के तालाब गाटा संख्या 925ड़ का पट्टा मत्स्य पालन हेतु 10 वर्ष के लिए आवंटित है। जिस पर दबंग तालाब माफिया हेमंत पुत्र चौधी लाल, चौधीलाल पुत्र सुरजी, श्रीमती रामप्यारी पत्नी चौधी लाल, रंजीत पुत्र चंद्रपाल सभी निवासी ग्राम तेरवा दहिंगवा थाना कासिमपुर व मुकेश पुत्र गजोधर निवासी गौरी शैयद तालिब थाना कासिमपुर हरदोई ने उक्त तालाब पर जबरदस्ती कब्जा करके सिंघाड़े की बेल डाल दी। वही सिंघाड़े की फसल में विषैला रसायनिक पदार्थ भी डाल दिया। जिससे काफी मछलियां मर गई। जिसको लेकर मत्स्य जीवी सहकारी समिति लिमिटेड तेरवा दहिंगवा के अध्यक्ष संतोष कुमार उक्त लोगों द्वारा जबरदस्ती गुण्डई के बल पर उक्त पट्टे के तालाब में सिघाड़ा की वेल डाल देना, मना करने पर गन्दी गन्दी गालिया देना व जान से मार डालने की धमकी देने के गम्भीर आरोप लगाते हुए थाना कासिमपुर में उक्त पांच लोगों के खिलाफ लिखित रूप में एफआईआरदर्ज करने हेतु तहरीर दी। जिस पर कासिमपुर पुलिस ने सभी पांचों अभियुक्तों के खिलाफ धारा 504, 506, 429 का मामला दर्ज कर लिया।

रिपोर्ट – पी०डी० गुप्ता