ब्लॉक कोथावां में वोटर लिस्टों की बिक्री के नाम पर हो रही अवैध वसूली

राष्ट्रीय बालिका दिवस पर एक दिन की कोतवाल बनी छात्रा अमृता

कछौना, हरदोई : राष्ट्रीय बालिका दिवस के मौके पर कछौना कोतवाली की अमृृता पुत्री अरुण कुमार निवासी ग्राम कटियामऊ पोस्ट रैंसो जिला हरदोई को एक दिन की कोतवाल बनाया गया। कोतवाली में अमृता का स्वागत किया गया। इसके बाद उन्होंने  में विभिन्न बिन्दुओं पर समीक्षा बैठक की।

प्रभारी निरीक्षक अमृता ने कहा कि बेटियों को कोई कम न समझे, वे रिकॉर्ड तोड़ रही हैं। परिवार हो या समाज उसमें उनकी बराबरी की सहभागिता होनी चाहिए। बालिका दिवस के उपलक्ष्य में उन्होंने कहा कि बालिकाएं हों या महिलाएं, वे अपने पैरों पर खड़ी हों। अब बेटियों को कोई कम न समझे, उन्हें सभी सपोर्ट करें। सेना, बैंक, पुलिस, अध्यापक सहित हर जगह में बेटियां जा रही हैं। बेटियों ने अंतरिक्ष तक का सफर किया है। उन्होंने कहा कि बेटियों को लेकर एक तरह की धारणा बनी है, उस धारणा को तोड़ने का काम करें। परिवार हो या समाज हो, उसमें उनकी बराबर की सहभागिता होनी चाहिए।

जिसके बाद प्रभारी निरीक्षक ने फरियादी रंजना पत्नी सरोज निवासी फत्तेपुर बेवली को उनके पति से विवाद चल रहा था। विवाद के कारण पति सरोज 2 साल की बच्ची को अपने साथ लेकर रह रहा था। फरियादी रंजना अपने मायके में जीवन यापन कर रही थी। प्रभारी निरीक्षक अमृता ने 2 साल की बिछड़ी बच्ची को मां के सुपुर्द करा दिया है। क्षेत्राधिकारी बघौली उमाशंकर सिंह ने बताया कोतवाली कछौना में बालिकाओं का मनोबल बढ़ाने के लिए राष्ट्रीय बालिका दिवस पर अमृता को एक दिन का प्रभारी निरीक्षक बनाया गया है। महिला प्रभारी निरीक्षक हंसमती के द्वारा एक दिन की बनी कोतवाल अमृता को महिला संबंधित व अन्य अपराधों के बारे में जानकारी दी गई है व इन अपराधों पर क्या कार्यवाही होती है? इस पर कैसे कार्यवाई करनी है आदि की जानकारी विस्तार रूप से दी गई।

इस मौके पर एक दिन की प्रभारी निरीक्षक अमृता व इनकी सहेलियां व प्रभारी निरीक्षक हंसमती सहित पुलिसकर्मी मौजूद रहे।

रिपोर्ट – पी०डी० गुप्ता

url and counting visits