ब्लॉक कोथावां में वोटर लिस्टों की बिक्री के नाम पर हो रही अवैध वसूली

बच्चों ने किताब पर बने तिरंगे के साथ मनाया गणतन्त्र दिवस

देश के प्रति प्रेम और सम्मान का एक जीता जाता उदाहरण ये बच्चे हैं । जब तक हमारे देश में ऐसे बच्चे और इन बच्चो को संस्कार देने वाले माता पिता और शिक्षक है तब तक भारत माता पर कोई आंच नहीं आ सकती । इस तस्वीर को देखकर यकीन हो गया भारत में देशप्रेम और देशभक्ति आज भी जिंदा है ये देश महान था महान है और महान रहेगा आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर ये बच्चे स्कूल नहीं जा सके और शहर के हालात ऐसे है कि बाहर नहीं जा सकते । तो इन बच्चों ने किताब पर बने तिरंगे के साथ अपना गणतंत्र दिवस मनाया । इतना उत्साह इतना प्रेम आज तक नहीं देखा ।

इन बच्चों ने इस तरह राष्ट्रगीत और राष्ट्रगान किया दिल खुश हो गया और आंखे गीली हो गई । ये प्रेम आपको हिन्दुस्तान में ही देखने को मिलेगा आपको और हमे इन बच्चो से शिख लेनी चाहिए । गर्व है मुझे कि में हिन्दुस्तान में पैदा हुआ और इन बच्चो के साथ रहने का और इनसे मिलने का सौभाग्य मिला । रोंगेट खड़े कर देने वाला ये खूबसूरत वाक्य रीवा जिले के एक छोटे से गांव का है जहां पर कुछ बच्चे अपने परिवार के साथ किराए के मकान में रह कर अपनी पड़ाई कर रहे है । कोरोना की वज़ह से स्कूल नहीं गए पर देखिए कैसे इन्होंने देश के प्रति प्यार दिखाया । सलाम करता हूं इन बच्चो के जज्बे को और इनके माता पिता के संस्कार को। ये देश प्रेम और ये तस्वीर देश के हर उस नागरिक को देखना चाहिए जो ये कहते है कि भारत ऐसा है वैसा है ये नहीं है वो नहीं है । इन बच्चो के नाम अर्पिता , शिवाश , राहुल , वागिस, आरूल है जो कि कक्षा 4-5 में है ।

url and counting visits