राम वशिष्ठ का एक्जिट पोल : भाजपा ला सकती है 280 से 290 सीट

Exit Poll

राम वशिष्ठ –

सभी एक्जिट पोल दिखा रहे हैं कि एक बार फिर मोदी सरकार बनेगी । चुनाव से पहले जो एक बात चली थी कि आयेगा तो मोदी ही और धीरे – धीरे यह इतना पॉपुलर हुआ कि यह सोशल मीडिया पर और अन्य मीडिया माध्यम पर जबर्दस्त ट्रेंड करने लगा । स्वरा भास्कर की घटना ने इसको राष्ट्रीय चुनावी वाक्य बना दिया । अब सभी एक्जिट पोल भी बता रहे हैं कि आयेगा तो मोदी ही । अधिकतर एक्जिट पोल भाजपानीत गठबंधन ( NDA ) को 300 से 305 तक सीट बता रहे हैं । भाजपा अकेले अपने दम पर 300+ सीट और NDA को 350 सीट मिलने का दावा कर रही हैं । बिखरा हुआ विपक्ष भी नतीजे आने से पहले ही सरकार के लिए जोड़तोड़ करना शुरू कर चुका है । चन्द्र बाबू नायडू तो जोर शोर से लगे हुए हैं । जबकि ज्यादातर एक्जिट पोल भाजपा गठबंधन को छोड़कर अन्य किसी को बहुमत तो दूर सबको मिलाकर बहुमत से दूर रख रहे हैं । तो तय है कि एक बार फिर मोदी सरकार ।

अब मेरा आंकलन

मुझे भी लग रहा हैं कि आयेगा तो मोदी ही । लेकिन मेरे हिसाब से भाजपा अकेले दम पर बहुमत ला रही हैं । मुझे लग रहा हैं कि भाजपा 280 से 290 सीट ला सकती हैं । मुझे नही लगता कि भारतीय जनता पार्टी अकेले 300 तक पहुँच रही हैं । साल 2014 में भाजपा अकेले 282 सीट लायी थी ।

साल 2014 में भाजपा को उत्तर प्रदेश में 80 में से 71 और सहयोगी दलों को 2 सीट मिली थी । NDA को 73 सीट मिली थी । इस बार सपा – बसपा गठबंधन के कारण भाजपा को उत्तर प्रदेश में नुकसान उठाना पड़ेगा । चुनाव से पहले लग रहा था कि सपा – बसपा गठबंधन यूपी में कम से कम 50 सीट जीतेगा , लेकिन अब अनुमान है कि गठबंधन 15 से 20 सीट पर सिमट जायेगा और कांग्रेस को एक या दो सीट मिलने का अनुमान है । उत्तराखंड में पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा को 5 में से 5 सीट मिली थी लेकिन इस बार लग रहा हैं कि भाजपा 4 या 3 सीट मिलने का अनुमान है । ऐसे देखे तो भाजपा को उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड की 85 सीट में से 60 सीट मिल सकती हैं जो 2014 के मुकाबले 16 सीट कम है । बंगाल में भाजपा 2014 में 2 सीट जीती थी लेकिन इस बार भाजपा बंगाल में 20 सीट तक जीत सकती हैं तो भाजपा 18 सीट की बढ़त के साथ यूपी – उत्तराखंड के घाटे को पाट सकती हैं । साल 2014 के चुनाव में भाजपा को गुजरात , राजस्थान , मध्य प्रदेश , छत्तीसगढ़ और झारखंड में जबरदस्त सीटे मिली थी लेकिन इस बार इन राज्यों में भाजपा को 2014 के मुकाबले लगभग 10 सीट कम मिलेगी तो वही उड़ीसा में भाजपा उम्दा प्रदर्शन कर रही हैं और 10 से 12 सीट जीत सकती हैं तो भाजपा गुजरात , राजस्थान , मध्य प्रदेश ,छत्तीसगढ़ और झारखंड के नुकसान की भरपाई उड़ीसा से कर लेगी । हरियाणा में भाजपा 2014 की 7 सीट के मुकाबले 9 सीट या क्लीन स्वीप भी कर सकती हैं । पंजाब में भाजपा की 2 सीट से बढ़कर संख्या 6 तक जा सकती हैं । ऐसे देखे तो भाजपा अगर कुछ क्षेत्रों में घट रही हैं तो दूसरे क्षेत्रों में उसकी पूर्ति कर रही हैं वो लगभग 2014 की स्थिति को प्राप्त कर रही हैं । बिहार में NDA में नये सहयोगी जुड़े हैं तो भाजपा निश्चित ही बढ़त पर रहेगी और दक्षिण में भी भाजपा को कुछ फ़ायदा होगा तो अनुमान है कि भाजपा 2014 के आसपास ही रहेगी और दक्षिण भारत भाजपा को मामूली आगे ले जा सकता है । तो मोटा – मोटा अनुमान है कि भाजपा 280 से 290 के बीच रहेगी । कांग्रेस इस समय अपने सबसे खराब दौर से गुज़र रही हैं और लग रहा हैं कि वो देश भर में से 50 का आंकड़ा भी पार नहीं कर सकती ।

तो निश्चित है कि अबकी बार फिर मोदी सरकार ।

url and counting visits