सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

कनाडा में भारत विरोधी गतिविधियों को मिल रहा बढ़ावा, विदेश मंत्रालय ने दी सावधानी बरतने और सतर्क रहने की सलाह

MEA ने एक बयान में कहा कनाडा में घृणा अपराधों, सांप्रदायिक हिंसा और भारत विरोधी गतिविधियों की घटनाओं में तेज वृद्धि हुई है। MEA और कनाडा में हमारे उच्चायोग / वाणिज्य दूतावास ने इन घटनाओं को कनाडा के अधिकारियों के साथ उठाया है और जांच और उचित कार्रवाई का अनुरोध किया है। गुरुवार को भारत ने कनाडा में ‘तथाकथित खालिस्तान जनमत संग्रह’ पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा था कि यह ‘गहरा आपत्तिजनक’ था कि चरमपंथी तत्वों द्वारा इस तरह की ‘राजनीति से प्रेरित’ गतिविधि को एक मित्र देश में होने दिया गय। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि भारत ने राजनयिक चैनलों के माध्यम से कनाडा के अधिकारियों के साथ इस मामले को उठाया था और इस संबंध में कनाडा पर दबाव बनाना जारी रखा जायेगा।

कनाडा में घृणा अपराधों, सांप्रदायिक हिंसा और भारत विरोधी गतिविधियों की घटनाओं में तेज वृद्धि के बीच सरकार ने शुक्रवार को भारतीयों को उचित सावधानी बरतने और सतर्क रहने के लिए एक सलाह जारी की।

शुक्रवार को MEA ने यह भी कहा कि कनाडा में भारत के भारतीय नागरिक और छात्र भी ओटावा में भारतीय उच्चायोग या टोरंटो और वैंकूवर में भारत के महावाणिज्य दूतावास, या MADAD पोर्टल madad.gov.in के माध्यम से पंजीकरण कर सकते हैं। पंजीकरण किसी भी आवश्यकता या आपात स्थिति में कनाडा में भारतीय नागरिकों के साथ बेहतर ढंग से जुड़ने के लिए उच्चायोग और महावाणिज्य दूतावास को सक्षम करेगा।

विभिन्न देशों में रह रहे भारतीयों की सहायता के लिए विदेश मंत्रालय द्वारा स्थापित ‘मदद पोर्टल’ पर पिछले साढ़े सात साल में 79,403 शिकायतें आईं और अब तक 75,114 मामलों का निपटारा किया गया है। हालांकि, पोर्टल पर पिछले साढ़े तीन वर्षों में शिकायतों में लगातार गिरावट दर्ज की गई है। विदेश मंत्रालय के ‘मदद पोर्टल’ पर वर्ष 2015 से जुलाई 2022 तक संकलित आंकड़ों के अनुसार अभी 4,289 शिकायतें निपटारे की प्रक्रिया में हैं।

(रिपोर्ट: शाश्वत तिवारी)