हरदोई पुलिस के असलहे हुए ‘अर्जुन के गांडीव’, अंधेरे में लक्ष्य भेद कर सटीक निशाने से बदमाशों को कर रहे घायल

मनोज तिवारी-

            हरदोई- महाभारत के महायुद्ध में अर्जुन ने गांडीव धनुष से कौरवों की व‌िशाल सेना को पराज‌ित करके व‌िजय हास‌िल की। इस धनुष के कारण ही उन द‌िनों सभी अर्जुन को महान धनुर्धर मानते थे। इस धनुष कीआवाज से ही शत्रु भयभीत हो जाते थे। हरदोई पुलिस के हथियार भी ठीक इसी तरह काम कर रहे हैं। हरदोई पुलिस ने पिछले महीनों में करीब आधा दर्जन अधिक मुठभेड़ की। इन सभी मुठभेड़ों में खास बात ये रही कि पुलिस ने सभी मुठभेड़ों में रात के अँधेरे में सटीक निशाना लगाकर बदमाशों को गिरफ्तार कर जेल भेजा। बदमाशों और पुलिस के बीच हुई फायरिंग में कोई भी पुलिसकर्मी गोली लगने से जख्मी नहीं हुआ। वहीं पकड़े गए सभी बदमाशों के वायें या दाएं पैर के निचले हिस्से में पुलिस ने अचूक निशाना लगाया।

        ताजा मामला सुरसा थाना क्षेत्र का है। यहां शुक्रवार की रात पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ में एक बदमाश को गोली लगी जबकि दो बदमाश फरार हो गए। जिन्हे पुलिस ने घेराबंदी करके गिरफ्तार कर लिया। घायल बदमाश को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। इसके बाद उसके विरुद्ध विधिक कार्रवाई की गई। पकड़े गए बदमाश गोकशी में वांछित चल रहे थे। इनके पास से पुलिस ने दो अवैध तमंचा, दो जिंदा व खोखा कारतूस, एक चपड़ और रस्सी के अलावा एक मोटर साईकिल बरामद करने का दावा किया है। पुलिस ने गिरफ्तार बदमाशों को जेल भेज दिया है।
           एसपी हरदोई अलोक प्रियदर्शी ने प्रेसवार्ता में मीडिया को बताया कि सुरसा थाना प्रभारी संतोष कुमार तिवारी ने सर्विलांस सेल के प्रभारी अलोक कुमार सिंह और पुलिस टीम की संयुक्त कार्रवाई के दौरान बदमाशों के साथ मुठभेड़ हो गई।मुठभेड़ के दौरान पुलिस की जबाबी कार्रवाई में फरार चल रहे गौकश जिआउल पुत्र छैली कुरैशी निवासी कुलबुली थाना पिहानी गोली लगने से घायल हो गया। वहीं उसका सगा भाई बाबू उर्फ़ पप्पू और साथी शाहबीर पुत्र बीरवल निवासी महुआहार बंजरपुरवा भागने में सफल हुए। पुलिस ने घेराबंदी करके भाग रहे दोनों अभियुक्तों को भी गिरफ्तार कर लिया। तीनों अभियुक्त गो-हत्या के वांछित अपराधी थे। जिन्हे पुलिस ने न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया।
       इन दिनों पुलिस और बदमाशों के बीच जमकर मुठभेड़ हो रही है। जिसके अंतर्गत हर जिले से कई बदमाशो को पुलिस पकड़ने में सफल भी हुई है। इस दौरान कई बदमाश मौका पाकर फरार भी हुए हैं। बता दें, देर रात यूपी के हरदोई जिले में भी पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई, जिसमें एक बदमाश जियाउल्लाह घायल हो गया वहीं दो मौका पाकर फरार हो गए हैं। घायल को अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया है। साथ ही फरार हुए बदमाशों की तलाश जारी है। पकड़े गए बदमाशों कर गोकशी के साथ ही कई आपराधिक मुकदमे विभिन्न थाना में दर्ज हैं।

इससे पहले अँधेरे में गोली मारकर कई बदमाशों को घायल कर चुकी हरदोई पुलिस

➡13 मार्च 2018 को बिलग्राम थाना क्षेत्र में पुलिस और बदमाशों की मुठभेड़ हुई इसमें एक बदमाश घायल हुआ और दो बदमाश फरार हो गए।

➡23 अप्रैल 2018 को बिलग्राम थाना क्षेत्र में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई इसमें एक बदमाश घायल हो गया।

➡19 जून 2018 को कासिमपुर थाना क्षेत्र में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई इसमें एक बदमाश घायल हो गया एक बदमाश फरार हो गया।

➡11 जुलाई 2018 को कोतवाली देहात क्षेत्र में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई इसमें एक बदमाश का है हो गया और एक फरार हो गया।

➡11 नवंबर 2018 को टड़ियावां थाना क्षेत्र में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई इसमें एक बदमाश घायल हो गया और तीन बदमाश फरार हो गए।

➡14 नवंबर 2018 को पचदेवरा थाना क्षेत्र में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई इसमें एक बदमाश घायल हुआ और दो बदमाश फरार हो गए।

url and counting visits