ब्लॉक कोथावां में वोटर लिस्टों की बिक्री के नाम पर हो रही अवैध वसूली

साहित्य संस्थान द्वारा राज्यकर्मियों हेतु पुरस्कार

जिलाधिकारी ने बताया है कि राज्य कर्मचारी साहित्य संस्थान द्वारा वर्ष 2017-18 के लिये राज्यकर्मियों को देवनागरी लिपि मे लिखि जाने वाली प्रदेश की भाषाओं/बोलियों मे दीर्घकालीन साहित्य सेवा के लिये चार पुरस्कार (दो गद्य एवं दो पद्य), देवनागरी लिपि मे लिखि जाने वाली उत्तर प्रदेश की भाषाओे/बोलियां मे गद्य की तीन एवं पद्य की पांच कृतियों हेतु आठ पुरस्कार दिये जायेगें। इसके अतिरिक्त हिन्दी भाषा/प्रदेश की बोलियों मे दीर्घकालीन सेवा हेतु सेवानिवृत्त राज्यकर्मियों को गद्य /पद्य मे एक-एक पुरस्कार एवं गद्य/पद्य की पुस्तकों पर एक-एक पुरस्कार प्रदान किया जायेगा। इसके साथ ही हिन्दीतर भाषा-भाषी प्रदेशों के राज्यकर्मियों को गद्य तथा पद्य मे दीर्घकालीन सेवा हेतु एक पुरस्कार  एवं पद्य की मौलिक कृति पर एक पुरस्कार प्रदान किया जायेगा।  उन्होने बताया कि राज्यकर्मियों हेतु उर्दू भाषा (फारसी लिपि में) दीर्घकालीन साहित्यिक सेवा हेतु दो पुरस्कार (गद्य या पद्य), उर्दू भाषा (फारसी लिपि) मे रचित या अन्य भाषा में लिखित मौलिक पुस्तक की फारसी लिपि मे अनुवादित/लिप्यंतरित गद्य या पद्य की कृति के लिये एक पुरस्कार तथा सेवानिवृत्ति कर्मियों को फारसी लिपि मे लिखित उर्दू भाषा में एक पुरस्कार दीर्घकालीन सेवा मे गद्य या पद्य हेतु पद्य की श्रेष्ठ पुस्तक हेतु एक पुरस्कार प्रदान किया जायेगा।

url and counting visits