ब्लॉक कोथावां में वोटर लिस्टों की बिक्री के नाम पर हो रही अवैध वसूली

मनकामेश्वर में शुरू हो गया बसन्तोत्सव

माँ सरस्वती प्रतिरूप सज्जा की दिलचस्प प्रतियोगिता हुई

  लखनऊ। बसंतोत्सव का महापर्व डालीगंज के प्रतिष्ठित मनकामेश्वर महादेव मठ-मंदिर में सोमवार से शुरू हो गया। दो दिवसीय इस फागुन पर्व के पहले दिन मां सरस्वती की प्रतिमा स्थापित कर उनका पूजन किया गया। इसके साथ ही मां सरस्वती रूप सज्जा और पीले वस्त्र सज्जा की दिलचस्प प्रतियोगिता हुई। इस क्रम में मंगलवार को मनकामेश्वर घाट उपवन में खंभ लगाकर होलिका दहन का स्थल घोषित किया जाएगा। रंगोली सज्जा और भजन गायन के कार्यक्रम होंगे।

  मनकामेश्वर मठ मंदिर में महंत देव्यागिरी की अगुआई में सोमवारीय अनुष्ठान हुए। इसमें तहत सुबह सूर्यादय से पहले ही बाबा का अभिषेक श्रंगार कर आरती की गई। भक्तों ने गर्भगृह के बाहर से ही अर्घ्य अर्पित किया। बसंतोत्सव के कारण मंदिर को सफेद और पीले फूलों से सजाया गया था। दोपहर में महिलाओं और युवतियों की मां सरस्वती प्रतिरूप सज्जा प्रतियोगिता हुई। उसमें प्रियंका वर्मा और रिद्धिमा श्रीवास्तव ने सर्वाधिक प्रशंसा हासिल की। बसंतोत्सव के कारण पीत वर्णी वेशभूषा श्रंगार की भी रोचक प्रतियोगिता हुई। उसमें शालिनी सैनी, सुमन वर्मा, निशी यादव, सोनी श्रीवास्तव, सुनीता चौहान, तृप्ता शर्मा, कमलेश यादव, मंजू, ज्योति वर्मा, गौरा गिरी, कल्याणी गिरी, शगुन पाण्डेय, वर्तिका श्रीवास्वत ने उत्साह के साथ भाग लिया। इस अवसर पर मंदिर परिसर में मां सरस्वती की प्रतिमा चौकी पर स्थापित कर उनके दरबार के सामने पूजन अनुष्ठान के बाद भजन भी गाये गए। किरन वर्मा और शालिनी के दल ने ‘वर दे वीणा वादिनी वर दे’ भजन सुनाए। 

इस अवसर पर उपमा पाण्डेय ने मां सरस्वती थीम पर फूलों से आकर्षक रंगोली भी सजायी। रात्रि महा-आरती जय भोले के जय घोष के साथ की गई जिसका प्रसारण https://www.facebook.com/DevyaGiriOfficial पर भी किया गया।

url and counting visits