अधिकारी पात्र व्यक्तियों को सरकार की योजनाओं का लाभ दें :  राजभर

विगत 11 जून 2018 को विकास खण्ड मल्लावां की ग्राम पंचायत ईस्लामपुर जगाई में आयोजित रात्रि चौपाल के मुख्य अतिथि राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार, प्रान्तीय रक्षक दल, खाद्य प्रसंस्करण होमगार्डस, नागरिक सुरक्षा अनिल राजभर एवं ग्राम पंचायत के सम्मानित सदस्य सन्तोष कुमार शुक्ला की अध्यक्षता में चौपाल का आयोजन किया गया।
इस अवसर पर मुख्य अतिथि अनिल राजभर ने चौपाल में उपस्थित भारी संख्या में ग्रामवासियों से कहा कि ग्राम स्वराज के माध्यम से प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री जी के सपनो को साकार किया जा रहा हैं। हम सरकार की मंशा के अनुरूप हमारे अधिकारीगण गांव की गलियों में घूम-घूम कर पात्र व्यक्तियों को सरकार की योजनओं का लाभ दे रहे है। सरकार की योजनाओ को संचालित करने के लिए हमारे ग्राम प्रधानों के पास भरपूर पैसा है जिससे हमारे गांवो का सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं से पूरा विकास हो रहा है। उन्होंने कहा कि हम किसानों की आमदनी को बढाने का पूरा काम कर रहे है चाहे वह गन्ना का किसान हो या धान, गेहूं का, उन्होने कहा कि गांव की गरीब जनता की समस्याओं के निस्तारण के लिए ही अधिकारियों की उपस्थित में रात्रि चौपालों का आयोजन किया जा रहा है।
मल्लावां विधायक आशीष सिंह आशू ने रात्रि चौपाल में सक्रिय भूमिका निभाते हुए सरकार द्वारा चलाई जा रही प्रधानमंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री मातृत्व योजना, प्रधानमंत्री मातृ वन्दन योजना, पात्र गृहस्थी, उज्जवला योजना, सौभाग्य योजना, आयुष्मान भारत योजना, शौचालय, पेंशन, छात्रवृत्ति, आदि योजनाओं को विस्तार से बताते हुए पात्र लाभार्थियों को इन योजनाओ का लाभ लेने के लिए विस्तार से जानकारी दी। रात्रि चौपाल में ग्रामीणों द्वारा रखी गई समस्याओं में सम्पर्क मार्ग, क्षेत्र में बैंक, आरसीसी गली एवं पुलिस चौकी प्रमुख रही। ग्रामीणों की शिकायतो को गंभीरता से लेते हुए त्वरित गति से निस्तारण करने का आश्वासन देते हुए सम्बन्धित अधिकारियों को निस्तारित करने के निर्देश दिये। इस अवसर पर अधिकारियों ने भी अपने अपने विभागों से सम्बन्धित योजनाओं सेे ग्रामीणों को अवगत कराया।
इस अवसर मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 एस0के0 रावत, उप जिलाधिकारी सत्येन्द्र सिंह, बिलग्राम, क्षेत्राधिकारी बिलग्राम देवेन्द्र कुमार, एसओ माधौगंज, खण्ड विकास अधिकारी भूषण कुमार, ग्राम प्रधान सहित अन्य विभागों के अधिकारीगण आदि मौजूद रहें।
url and counting visits