सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

भाजपा सांसद अंशुल वर्मा ने 03 बरस के कार्यकाल की उपलब्धियां गिनाईं

हरदोई सदर लोकसभा सीट से भाजपा सांसद अंशुल वर्मा ने कहा कि वह क्षेत्र के विकास के लिए निरन्तर प्रयत्नशील रहे और केन्द्र से सम्बन्धित योजनाओं को लाकर जनता को समर्पित किया। लेकिन, जो प्रस्ताव राज्य सरकार के ज़रिए केन्द्र को भेजे जाने थे, उन्हें प्रदेश की पूर्ववर्ती सरकार ने अनापत्ति प्रमाणपत्र नहीं दिया और दबाए रखा।

सदर सांसद ने आज अपने हरिपुरवा आवास पर पत्रकार वार्ता में 03 बरस के कार्यकाल की उपलब्धियां गिनाईं। कहा कि अब प्रदेश में भी भाजपा की सरकार है और उनके जो प्रपोज़ल पूर्व की सरकार दबाए रही, उन पर काम सुनिश्चित कराएंगे। सांसद ने सपा राष्ट्रीय महासचिव/सांसद नरेश अग्रवाल, उनके परिजनों और समर्थकों पर भ्रष्टाचार, सरकारी, ट्रस्टों, तालाबों, चकरोडों व गरीबों की ज़मीनों पर अवैध कब्जों, सरकारी भण्डार गृहों में अनाज की अनलोडिंग पर डाला वसूली, निजी बस अड्डों, टैक्सी स्टैण्डस् व ऑटो से वसूली, पीडीएस के खाद्यान्न वितरण की कालाबाज़ारी, गैर-प्रान्त की शराब की तस्करी करने वालों, भ्रष्टाचार में लिप्त पूर्व बीएसए बृजेश मिश्रा को संरक्षण सहित आरोपों की झड़ी लगा दी।

बहरहाल, सांसद ने बताया कि अपने कार्यकाल में सड़क, शिक्षा, बिजली, पानी जैसी मूलभूत ज़रूरतों को लेकर ठोस काम किए। संसदीय क्षेत्र में 16 पानी की टंकी और 50 सोलर टंकी स्वीकृत कराईं, जो चालू हो गई हैं। 500 हैण्डपम्प स्थापित कराए। पथ प्रकाश के लिए 400 हाई मास्क लाइट, 2000 सोलर लाइट स्थापित हुईं और 2500 सोलर लाइट का प्रस्ताव केन्द्र सरकार को भेजा है। सांसद निधि से 24, प्रधानमंत्री सड़क योजना 32 और ज़िला योजना से 04 सड़कें बनवाईं। स्वास्थ्य क्षेत्र में केन्द्र सरकार से 03 ट्रॉमा एम्बुलेन्स और निधि से 02 एम्बुलेन्स ज़िला अस्पताल को दीं। उज्ज्वला योजना के तहत 60 हज़ार से अधिक रसोई गैस कनेक्शन गरीब परिवारों को दिलवाए।


स्टेशन को मिलेंगी ‘ए’ ग्रेड की सहूलियतें


सांसद के अनुसार उनके प्रयासों से हरदोई रेलवे स्टेशन मण्डल में प्रथम स्थान पर आया है। स्टेशन को ‘ए’ ग्रेड में चयनित कराने, मल्टीस्टोरी पार्किंग, वीवीआईपी प्रतीक्षालय, स्वचालित सीढ़ियों, कोच डिस्प्ले बोर्ड इंडीकेटर और 04 आरओ का प्रस्ताव दिया है, जिसकी मंजूरी जल्दी मिल जाएगी।


200 किमी सड़क मंजूर


सांसद ने बताया कि प्रधानमंत्री सड़क योजना से क्षेत्र में 200 किलोमीटर सड़क निर्माण की मंजूरी मिली है। इनमे हरदोई-साण्डी मार्ग (13 किमी), साण्डी-शाहाबाद मार्ग (46 किमी), टड़ियावां-हरिहरपुर दधनामऊ मार्ग (17 किमी), गोपामऊ-इटौली मार्ग का पेंग के पास अवशेष भाग (05 किमी), पिहानी-चपरतला मार्ग (13 किमी), पाली नहर पुलिया-हथौड़ा सम्पर्क मार्ग (15 किमी), मिरगवां-खसौरा मार्ग (11 किमी), कुम्हरवा पुल-करावां मार्ग (10 किमी), बांधा चौराहा-भैंसरी मार्ग (07 किमी), सीतापुर मार्ग-मढ़िया (06 किमी), पेंग चौराहा-अछुवापुर मार्ग (10 किमी), श्रीमऊ-जिगनी मार्ग (10 किमी), अर्जुनपुर से देहलिया होते हुए अदनिया मार्ग (22 किमी) और लोनार से नसौली होते हुए आगापुर तिराहे तक (35 किमी) की डीपीआर तैयार कर भेजी जा चुकी है। स्वीकृति मिल चुकी है और बजट आवंटित होने जा रहा है।08


उच्चतर माध्यमिक स्कूल बनेंगे


सांसद ने कहा कि उनकी पहल पर योगी सरकार 08 राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय दे रही है। ये रहीमपुर, अल्हादादपुर, भीठा महासिंह, सहिजना, भैंसरी, शिरोमन नगर, शिवसिंह पुरवा और इनायत पुरवा में बनेंगे। इनके निर्माण के लिए धन अवमुक्त हो गया है।


रुके हुए ये काम भी होंगे


सांसद ने कहा कि आंझी शाहाबाद रेलवे स्टेशन के गेट नम्बर-300 पर ओवर हेड ब्रिज, कालागाढ़ा से पाली और बरौलिया से मोहद्दीनपुर तक गर्रा नदी पर बंधा बनवाने, गौरिया-घोड़ीथर से श्यामपुर, चंद्रमपुर, अरवल व बेहटा आदि गांवों में रामगंगा नदी पर बंधा बनवाने, बड़ागांव-अर्जुनपुर के बीच रामगंगा पर पुल निर्माण, भरखनी-बरवन रजबहा में पानी लाने, पर्यटक स्थलों के सौन्दर्यीकरण, कृषि विज्ञान केन्द्रों को ज़मीन आवंटित कराने के प्रस्तावों में पूर्ववर्ती राज्य सरकार ने किसी में भूमि आवंटित नहीं की, किसी में अनापत्ति प्रमाणपत्र नहीं दिया और किसी को प्रस्ताव केन्द्र सरकार को भेजने की जगह दबाए रखा। इसी तरह, हरदोई शहर का चयन केन्द्र की अमृत योजना में कराया। इसके तहत केन्द्र सरकार की त्वरित पेयजल योजना से पेनीपुरवा, धियर महोलिया, महोलिया शिवपार सैय्यापुरवा, ज्योति नगर, खादी आश्रम महोलिया चौराहा के लिए पानी की टंकी स्वीकृत कराईं, लेकिन ज़मीन आवंटित नहीं की गई। अब इन सभी प्रस्तावों को अब मंजूरी दिलाई जाएगी। पत्रकार वार्ता के दौरान भाजपा जिला उपाध्यक्ष अजय अवस्थी व अजीत सिंह ‘बब्बन’ और पूर्व नगर अध्यक्ष/जिला कार्यालय मन्त्री गौरव भदौरिया मौजूद रहे।

-अंतर्ध्वनि एन इनर वॉइस वार्ता