थाना अलापुर, बदायूँ के रमनगला में आपराधिक प्रवृत्ति के एक युवक का शव बरामद

डीएम, एसएसपी ने उझानी में सीएचसी स्थित एल-1 का किया निरीक्षण

बदायूँ: जनपद में निकले कोरोना संक्रमितों को उझानी के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में इलाज हेतु रखा गया है। जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार त्रिपाठी ने सीएचसी स्थित एल-1 का निरीक्षण किया। उन्होंने चिकित्सकों के लिए पीपीई किट, संक्रमितों के लिए भोजन, रोशनी, सीसीटीवी आदि व्यवस्थाओं की जानकारी ली। ईओ नगर पालिका उझानी को निर्देश दिए कि उक्त व्यवस्थाओं की माॅनिट्रिंग करने के निर्देश दिए हैं। व्यक्तियों के संक्रमित आई रिपोर्ट के 10 दिन बाद पुनः सैम्पल लिया जाएगा। रिपोर्ट निगेटिव आ जाने पर उन्हें डिस्चार्ज कर दिया जाएगा।

शनिवार को डीएम एवं एसएसपी ने उझानी एवं शहर बदायूँ में लाॅकडाउन का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी से बचाव के लिए घरों में अधिक समय बिताएं। खरीदारी करके सीधे अपने घर जाएं। बेवजह भीड़ न इकट्ठी होने पाए। लाॅकडाडन का उल्लंघन करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा। फिजीकल डिस्टेंसिंग का पालन करें। कोरोना का खतरा बढ़ता ही जा रहा है, इसलिए इसे कतई हल्के में न लें। जरा सी लापरवाही जीवन के लिए घातक बन सकती है। अपना और अपने परिवार के लिए बताए गए इन नियमों का पूर्णतया पालन करें। फिजीकल डिस्टेंस का पालन खुद भी करें और दूसरों को भी कराएं, तभी इस महामारी से बचा जा सकता है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी को रोकने के लिए लाॅकडाउन और फिजीकल डिस्टेंसिंग बहुत ही प्रभावी उपाय है। खांसते, छींकते समय मुंह को रूमाल व टिश्यू से ढकें। हाथों को समय-समय पर साबुन से धोते रहे या सेनीटाइजर से साफ करें। मुंह ढकने के लिए मास्क, गमछा, तौलिया, दुपट्टा या बडे़ रूमाल का प्रयोग करें, बुर्जुगों एवं बच्चों का विशेष ध्यान रखे। सभी लोग घर में रहें, सुरक्षित रहें, स्वस्थ्य रहें।

url and counting visits