कैंसर पीड़ित घर के मुखिया उमेश अग्निहोत्री के परिवार की जिम्मेदारी ले राजवर्धन ने दिया दीवाली गिफ्ट

ठेले पर रात गुजारने को मज़बूर

राज चौहान –

—————————–

आपको बताते चलें कि हरदोई जनपद में राजवर्धन सिंह ‘राजू’ ने ग़रीबों के दिलों में समाजसेवी के रूप में एक अलग पहचान बना रखी है, आमतौर पर सभी शख्स अपने घर और परिवार के साथ दीपावली का पर्व मनाते हैं तो वहीं राजवर्धन सिंह राजू ने हरदोई ज़िले के पाली कस्बे में रह रहे उमेश अग्निहोत्री की मदद करने का संकल्प लिया है उमेश अग्निहोत्री अपनी ज़िंदगी की लड़ाई कैंसर जैसी भयंकर बीमारी से लड़ रहे हैं वह अपने परिवार के मुखिया के तौर पर जीविका चलाने हेतु दिन- प्रतिदिन मेहनत और मज़दूरी कर 2 वक़्त की रोटी का बड़ी मुश्किल में बंदोबस्त कर पाते हैं ऊपर से 3 बेटियों की पढ़ाई का खर्चा।

कहने को घर तो है पर घर ऐसा जहां छत ही नही है, तो अब ऐसे सरकार की योजनाएं काम इस परिवार के लिए हैं ही नहीं या कहें ग़रीबों के लिए योजना सिर्फ सुनने भर की होती हैं ना इन्हें घर नसीब है ना सोने के लिए ज़मीन सोते भी हैं तो लकड़ी की बनी ठेली पर जिसपर आमतौर पर व्यक्ति सब्जी लगाते नज़र आता है।

कैंसर से जंग लड़ रहे उमेश के परिवार के साथ समाजसेवी राजवर्धन सिंह ने मिठाई आदि देकर दीवाली मनाई व भविष्य में तीनों बेटियों के पढ़ाई एवं अन्य प्रकार के खर्च उठाने का भी जिम्मा लिया है।

और आख़िर में गोपालदास नीरज की चंद लाइने याद आ रही हैं की

जलाओ दिए पर रहे ध्यान इतना
अँधेरा धरा पर कहीं रह न जाए।

url and counting visits