जबर्दस्ती कोई कलिमा क्यों पढ़े ?

May 14, 2017 0

 राघवेन्द्र कुमार राघव- जमीन की सतह पर किसी शहर, गांव, सेहरा का कोई घर या कोई खेमा ऐसा बाकी नहीं रहेगा, जहाँ अल्लाह तआला इस्लाम के कलिमा को दाखिल न फ़रमा दें । मानने वाले […]

हिंदू रीति में पूजा के विभिन्न विधान हैं और इसमें किसी जाति बंधन की बात नहीं होती

May 7, 2017 2

मनहरण- कुछ लोग मंदिर में पुजारी को लेकर बवाल मचाए हुए हैं, लोगों का मानना है कि खास वर्ग के लोग ही मंदिरों पर कब्जा जमाए हैं। उन्हीं वर्ग के लोग मंदिरों में पुजारी बने […]

गौतम गंभीर ने नक्सली हमले में शहीद हुए जवानों के बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाने की घोषणा की

April 29, 2017 0

सुकमा में नक्सली हमले में शहीद हुए जवानों के परिवारों की मदद के लिए क्रिकेटर गौतम गंभीर ने हाथ बढ़ाया है। गौतम गंभीर ने 25 शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों के बच्चों की पढ़ाई का खर्च […]

आज तीर्थंकर भगवान महावीर की जयंती

April 9, 2017 0

आज देशभर में पूरे श्रद्धा और उल्लास के साथ जैन धर्म के अंतिम तीर्थंकर भगवान महावीर की जयंती मनाई जा रही है। चौबीस तीर्थंकरों में अंतिम तीर्थंकर महावीर ने अहिंसा और मानव प्रेम का संदेश दिया […]

क्या राम की शख़्सीयत पर किसी एक क़ौम का हक़ हो सकता है ?

April 5, 2017 0

सौन्दर्या नसीम- यौमुस्सलस्सा यानी कल एक बार ख़याल में आया था कि आप सबों को राम के यौमे विलादत या जिसे आप राम नवमी कहते हैं, उसकी मुबारकबाद दूँ, पर असमंजस में थी कि यह […]

सत्यम् शिवम् सुन्दरम् से ही होगा विश्व परिवर्तन : संत श्रीपाल

February 26, 2017 1

शाहाबाद- शिव सत्संग मण्डल के परमाध्यक्ष संत श्रीपाल ने कहा कि पर्वों का महापर्व महाशिवरात्रि है। सत्यम् शिवम् सुन्दरम् के हर तरफ उदघोष से विश्व परिवर्तन संभव है। मोहल्ला चौक के राम वाटिका मैदान में […]

महाशिवरात्रि विशेष

February 24, 2017 0

ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्। उर्वारुकमिव बन्धनात् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्। – ऋग्वेद (7.59.12) विभिन्न जगहों पर भिन्न – भिन्न रूपों में भोले नाथ जाने जाते हैं । जैसे —- पशुपतिनाथ – पशु पक्षियों व आत्माओं का स्वामी […]

आज मनाया जा रहा है तमिल हिन्दुओं का प्रमुख त्योहार पोंगल

January 13, 2017 0

आज १३ जनवरी के दिन दक्षिण भारत में पोंगल (तमिळ – பொங்கல்) त्यौहार मनाया जाता है | यह तमिल हिन्दुओं का एक प्रमुख त्योहार है । यह प्रति वर्ष १४-१५ जनवरी को मनाया जाता है […]

भरत के नाम से ही लोग अजनाभखण्ड को भारतवर्ष कहने लगे

December 9, 2016 0

राघवेन्द्र कुमार “राघव”- भारत को एक सनातन राष्ट्र माना जाता है क्योंकि यह मानव-सभ्यता का पहला राष्ट्र था। श्रीमद्भागवत के पञ्चम स्कन्ध में भारत राष्ट्र की स्थापना का वर्णन आता है। भारतीय दर्शन के अनुसार […]

नाग पंचमी महात्म्य

August 7, 2016 0

मनुष्यों और नागों का सम्बन्ध पौराणिक कथाओं में मिलता है ! पृथ्वी शेषनाग के सहस्र फनों पर टिकी है, भगवान विष्णु क्षीरसागर में शेषशय्या पर सोते हैं, शिवजी के गले में सर्पों का ही हार […]

1 6 7 8
url and counting visits