भारतीय नववर्ष की विशेषता! कैसे मनायें नववर्ष ?

March 26, 2020 0

राजेश पाण्डेय (प्रवक्ता, आनन्दी देवी इण्टर कॉलेज सीतापुर)- दो हजार वर्ष पहले शकों ने सौराष्ट्र और पंजाब को रौंदते हुए अवंती पर आक्रमण किया तथा विजय प्राप्त की। विक्रमादित्य ने राष्ट्रीय शक्तियों को एक सूत्र […]

‘पृथ्वीनाथ पाण्डेय की प्रायोगिक भाषिक पाठशाला’

March 22, 2020 0

यह ‘समय’ (छत्तीसगढ़-मध्यप्रदेश) के समाचार-चैनल का चित्र है। इस चैनल के चित्र को ध्यानपूर्वक देखें। सबसे नीचे के समाचार-शीर्षक को पढ़ें :— ० सभी मृतक लकड़ी से लदे ट्रैक्टर में सवार थे। इस सामाचारिक वाक्य […]

इच्छाशक्ति प्रबल हो तो हिन्दी राष्ट्रभाषा बन सकती है : डॉ०पृथ्वीनाथ

March 1, 2020 0

२९ फ़रवरी को हिन्दी साहित्य सम्मेलन प्रयाग की ओर से राजकीय संस्कृत महाविद्यालय, सोलन (हिमाचलप्रदेश) के सभागार में ‘एक राष्ट्र-एक भाषा’ विषयक राष्ट्रीय परिसंवाद का आयोजन हुआ, जिसमें देश के सुदूर अंचलों से आये हुए […]

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की प्रायोगिक पाठशाला

February 25, 2020 0

यह है, ‘न्यूज़ 24’ समाचार-चैनल। नीचे ‘न्यूज़ 24’ समाचार-चैनल-द्वारा २४ फ़रवरी, २०२० ई० को प्रसारित किये गये दो समाचार दिखाये गये हैं। आप अब नीचे प्रदर्शित किये गये दोनों चित्रों के भाषिक सत्य को समझें […]

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला में जानिए ‘आरम्भ-प्रारम्भ-समारम्भ-परिरम्भ’

February 23, 2020 0

● शब्द-परिशीलन किसी भी कार्य की प्रथम अवस्था का अनुष्ठान अथवा सम्पादन ‘आरम्भ’ है। दूसरे शब्दों में— कोई भी कार्य जब पहली बार किया जाता है तब उसे ‘आरम्भ’ कहा जाता है। अब ‘आरम्भ’ शब्द-संरचना […]

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला

February 21, 2020 0

भाषा व्यक्तित्व को निखारती है और उसमें एक सुखद आकर्षण भी उत्पन्न करती है। आइए! अपने व्यक्तित्व को सँवारें। सौन्दर्य और सौन्दर्य-बोध की अवधारणा :— कोई भी कविता ‘सुन्दर’ अथवा ‘nice’, ‘beautiful’, ‘great’ नहीं होती […]

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला ◆ विषय : वर्णमाला

February 12, 2020 0

★ हिन्दी-वर्णमाला की कुल संख्या ★ वर्णमाला के अन्तर्गत वर्णों की कुल संख्या ‘हिन्दी-वर्णमाला’ में वर्णों की कुल कितनी संख्या है? इस प्रश्न का विस्तृत और विशद उत्तर लिखते हुए, विद्यार्थियों, यहाँ तक कि अधिकतर […]

नूतन वर्ष के अवसर पर प्रकाशन-यात्रा का प्रारम्भ

January 12, 2020 0

अभिनव वर्ष (२०२०) के समारम्भ होते ही प्राथमिक शालाओं (यू०पी० बोर्ड और सी०बी०एस०ई०) में अध्ययन-अध्यापन करनेवाले कक्षा एक से पाँच तक के शिक्षार्थी-शिक्षकवृन्द के लिए ‘हिन्दी-व्याकरण और संरचना’ नामक कृति अब देश की शैक्षणिक संस्थाओं […]

सम्पूर्ण उत्तरप्रदेश में आयोजित ‘शिक्षक पात्रता परीक्षा’ की ‘हिन्दी-भाषा’ के प्रश्नपत्र में बड़ी संख्या में अशुद्धियाँ

January 12, 2020 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय (भाषाविद्-समीक्षक)– ★ दोषियों को कठघरे में लाया जाये । ८ जनवरी, २०२० ई० को सम्पूर्ण उत्तरप्रदेश में ‘परीक्षा नियामक प्राधिकारी’, प्रयागराज की ओर से प्राथमिक स्तर की जो ‘शिक्षक पात्रता परीक्षा’ का […]

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला

January 11, 2020 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय मेरे पास एक विद्यार्थी ने ऊपर अंकित प्रश्न भेजा है; क्योंकि वह प्रश्न के विकल्प को समझ नहीं पा रहा है। उसने यह नहीं बताया है कि उक्त प्रश्न किस परीक्षा के […]

Ring of Fire (सूर्य ग्रहण) के अध्ययन हेतु कोयम्बटूर में आयोजित कार्यशाला में हरदोई से शामिल हुए पीबीआर इण्टर कॉलेज के प्रदीप नारायण मिश्र

December 28, 2019 0

राघवेन्द्र कुमार त्रिपाठी ‘राघव’– वर्ष 2019 के अन्तिम सूर्यग्रहण को देखने व इस खगोलीय घटना के अध्ययन हेतु “विज्ञान प्रसार (विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग भारत सरकार)” द्वारा कोयम्बटूर में दो दिवसीय (25 व 26 दिसंबर […]

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला

December 14, 2019 0

यहाँ पृथक् प्रकार के तीन वाक्य दिये गये हैं, जो दोषपूर्ण हैं। वे दोष कई प्रकार के हैं। वाक्य की प्रकृति को समझते हुए, हमने उन सभी दोषों पर सांगोपांग विचार करते हुए, उनका दोषमुक्त […]

परीक्षा विशेष : कैसे करें कर्मचारी चयन आयोग (SSC) अन्तर्गत आयोजित अनुवादक चयन परीक्षा, पेपर-2 की तैयारी

December 11, 2019 0

बिनय कुमार शुक्ल– नवंबर माह के दौरान कर्मचारी चयन आयोग द्वारा अनुवादक चयन परीक्षा के पेपर-1 की परीक्षा का आयोजन किया गया था । इस परीक्षा में लगभग 12000 अभ्यर्थी शामिल हुए थे । हालांकि […]

‘डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की प्रायोगिक पाठशाला’

December 11, 2019 0

◆ नीचे दिये गये ‘चित्र’ को गम्भीरतापूर्वक देखें। ■ न हिन्दी और न ही अँगरेजी का बोध! ‘बस-विभाग’ की मूढ़ता अथवा ‘वाराणसी विकास प्राधिकरण’ का प्रमाद कहा जाये– न हिन्दी का संज्ञान और न ही […]

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला : भाषा-संस्कार विकसित करें

December 8, 2019 0

प्रतिभाशाली विद्यार्थी वही होता है, जो शब्दानुशासन को सम्यक् रूपेण धारण करता हो। जिसके पास विद्या होती है, वही विद्यार्थी कहलाने का अधिकारी होता है; क्योंकि विद्यार्थी का मूल आभूषण ‘विनयशीलता’ है और विद्या ही […]

शोधविद्यार्थियों के लिए एक शैक्षणिक सूचना

November 28, 2019 0

‘डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला’ की ओर से शोधविद्यार्थियों के पथप्रदर्शन-हेतु मास-पर्यन्त एक कर्मशाला आरम्भ करने पर विचार किया जा रहा है। उसके लिए कर्मशाला में सम्मिलित होनेवाले शोधार्थियों से एकमुश्त एक निर्धारित शुल्क लिया […]

हिन्दीभाषा का ‘स्वतन्त्र’ व्याकरणलेखन अपरिहार्य

November 27, 2019 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय- हमारे हिन्दीशब्दकोशकारगण ने हिन्दीशब्दकोश के नाम पर ‘कबाड़ख़ाना’ बनाया है। इसका मुख्य कारण है कि उन्होंने उद्देश्यपरक कोश तैयार नहीं किये हैं। उद्देश्यपरक का प्रश्न इसलिए कि कौन-सा शब्द देशज/देसज है; तद्भव […]

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला में जायसी का ‘पद्मावत’ : एक अनुशीलन

November 20, 2019 0

‘पद्मावत’ महाकाव्य भारतीय परिभाषा के अन्तर्गत नहीं आता। उसे एक बृहद् खण्ड काव्य कहा जा सकता है। ऐसा इसलिए कि उसमें कथा की धारा सर्गों में विभाजित न होकर, अविच्छिन्न रूप में प्रवहमान है, उसे […]

हिन्दी की रोटी, अंग्रेज़ी की आग !

November 12, 2019 0

राघवेन्द्र कुमार ‘राघव’- हर बार की तरह इस बार भी हिन्दी दिवस हिन्दी की याद दिलाकर गुज़र गया । हिन्दी का विकास हो रहा है, प्रचार – प्रसार में बड़ी -बड़ी बातें कहते हुए नीति […]

1 2 3 16
url and counting visits