सूचना क्रान्ति के जनक:- राजीव गांधी (संदर्भ:- 20 अगस्त (सद्भावना दिवस))

August 19, 2019 0

राजेश कुमार शर्मा पुरोहित कवि, साहित्यकार हम 20 अगस्त को पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी जी का 75 वां जन्म दिवस हीरक जयंती के रूप में मना रहे हैं। राजीव जी को कम्प्यूटर का जनक […]

दर्शन इंस्टीट्यूट राजकोट गुजरात में हुए आयोजन में पीबीआर इण्टर कॉलेज तेरवा गौसगंज के विज्ञान क्लब को कांस्य श्रेणी का पुरस्कार

August 15, 2019 0

आदित्य त्रिपाठी (प्रबन्ध निदेशक IV24)- पी.बी.आर. साइंस क्लब (vp-up0151) को विज्ञान प्रसार, जो कि भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के अन्तर्गत कार्य करने वाला एक स्वायत्त संगठन है, के द्वारा वर्ष 2017-2018 और […]

आप ‘मार्गदर्शन’ को ग्रहण कर अपना भविष्य समुन्नत करें

August 12, 2019 0

प्रियवर विद्यार्थीवृन्द! ‘दैनिक जागरण’ में ‘नई राहें’ पृष्ठ पर सोमवार को मुद्रित पाक्षिक स्तम्भ ‘मार्गदर्शन’ के अन्तर्गत आपकी शैक्षिक, सामाजिक तथा मनोवैज्ञानिक समस्याओं का निराकरण और शंकाओं का सहज व्यावहारिक समाधान प्रेरक शब्दों में किया […]

इस समाचारपत्र के सम्पादक को ‘प्रेमचन्द’ की वर्तनी नहीं मालूम?

August 8, 2019 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय- प्रेमचन्द-विषयक इस विशेषांक में प्रत्येक स्थान पर ‘प्रेमचन्द्र’ ही छपा है। एक-दो स्थान पर होता तो मुद्रणप्रणाली के प्रक्रियान्तर्गत एक सामान्य भूल मानी जा सकती थी; परन्तु यहाँ तो ‘अज्ञान की सञ्चित […]

अनुच्छेद ३७० बनाम धारा ३७० : देश के समाचार चैनल ‘अनुच्छेद’ और ‘धारा’ में अन्तर नहीं जानते

August 6, 2019 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय– हमारे देश के ९५ प्रतिशत से अधिक मीडियाकर्मी और अधिवक्ता यह नहीं जानते कि ‘धारा’ और ‘अनुच्छेद’ में क्या अन्तर है। यही कारण है आज तक हमारे मीडियाकर्मी और अधिवक्ता ‘अनुच्छेद ३७०’ […]

होम्योपैथी चिकित्सा : बात कुछ लम्बी है, पर है रोज़मर्रा के काम की

August 5, 2019 0

सन्त समीर जी की फ़ेसबुक वॉल से– बात कुछ लम्बी है, पर रोज़मर्रा के काम की है। पूरा पढ़ लेंगे तो शायद औरों को भी पढ़ाना चाहेंगे। होम्योपैथी दोतरफ़ा चिकित्सा पद्धति है। मरीज़ को जागरूक […]

एक ‘भाषाविज्ञानी’ का ‘देश के समस्त संस्कृत-हिन्दीभाषा के पण्डितों’ से भाषाविद् डॉ. पृथ्वीनाथ पाण्डेय का एक तार्किक प्रश्न :–

August 1, 2019 0

● एक ‘भाषाविज्ञानी’ का ‘देश के समस्त संस्कृत-हिन्दीभाषा के पण्डितों’ से एक तार्किक प्रश्न :– ‘अयोगवाह’ (ं और ः) को जब न ‘स्वरों’ ने स्वीकार किया है और न ही ‘व्यंजनों’ ने, अर्थात उन दोनों […]

ऐसा डस्टबिन… जिसके पास जाते ही अपने आप खुल जाएगा ढक्कन, फुल होने पर मोबाइल पर भेजेगा मैसेज

July 26, 2019 0

नवाचार के अन्तर्गत शीतांशु त्रिपाठी ने बनाया ऑटोमैटिक डस्टबिन- रिपोर्ट: राघवेन्द्र कुमार त्रिपाठी ‘राघव’– राघौगढ़ की जेपी यूनिवर्सिटी में बीटेक के छात्र शीतांशु त्रिपाठी ने वायरलेस इंटनेट पर आधारित मैकेनिकल तकनीक से लैस खास डस्टबिन […]

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला में जानिए वाक्य-विन्यास

July 16, 2019 0

आज ‘गुरु पूर्णिमा’ है। ★ आषाढ़-मास की ‘पूर्णिमा’ को ‘गुरु पूर्णिमा’ की संज्ञा दी गयी है। इस सारस्वत पर्व पर ‘गुरुस्मरण’ का विधान है। ● डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला हिन्दी-व्याकरण का नियम वाक्य-विन्यास :- […]

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला में भाषा-विमर्श

June 27, 2019 0

लिपि : जिस प्रकार भाषा की उत्पत्ति कब से हुई है, इसका कोई सर्वमान्य उत्तर अब तक प्राप्त नहीं हो सका है उसी प्रकार लिपि की व्युत्पत्ति का प्रश्न मात्र ‘प्रश्न’ बनकर रह गया है। […]

‘भाषा की पाठशाला’ के अन्तर्गत डॉ. पृथ्वीनाथ पाण्डेय से पूछें शब्दार्थ

June 18, 2019 0

‘दैनिक जागरण’ की ‘शनिवासरीय’ प्रस्तुति ‘भाषा की पाठशाला’ में हम ‘दो शब्दों’ पर सम्यक् रूपेण विचार करते हैं और अन्त में उन शब्दों के प्रति अपनी पाठक-पाठिकाओं को जागरूक करते हैं, जो अनभिज्ञता के कारण […]

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला में वाक्य-संरचना में ‘पूर्ण विराम’ का महत्त्व समझें और मनोरंजन करें

June 18, 2019 0

यह घटना बलिया ज़िले की है। गाँव ‘सुखपुरा’ है। एक कार्यक्रम के दौरान एक महिला मुझसे मिली थी। वह अर्द्ध-शिक्षिता थी। उसका पति झारखण्ड में कोयलरी (कोयला-कारख़ाना) में काम करता था। वह महिला अपने पति […]

शब्द-चिन्तन

June 4, 2019 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय- शब्द परा है तो अपरा भी; शब्द ज्योति है तो तिमिर भी; शब्द स्थूल है तो सूक्ष्म भी; शब्द नूतन है तो पुरातन भी; शब्द रुदन है तो हास भी; शब्द सौम्य […]

जो भी भाषा-शुचिता का पक्षधर नहीं, ‘अपना मार्ग’ अलग कर ले

May 27, 2019 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय- जो भी व्यक्ति इस विषय का पक्षधर है कि उसके लिए ‘भाषा-शुचिता’ से अधिक ‘मात्र सम्प्रेषणीयता’ का महत्त्व है, ऐसे लोग मेरी मैत्री-सूची से स्वयं को ‘सदैव’ के लिए पृथक् कर लें; […]

बाधाओं से लड़िए और इन्हें छिन्न-भिन्न करिए

April 27, 2019 0

राघवेन्द्र कुमार त्रिपाठी ‘राघव’ सद्कर्म की राह बड़ी ही कठिन है । मानवता के मार्ग में अनेक कंटीली झाड़ियाँ हैं । सत्य-मार्ग पर जब आप चलेंगे तो कंटक रूपी बाधाओं से दो चार होना ही […]

नकारात्मक विचारों से जूझता मन

April 6, 2019 0

अभिषेक कांत पाण्डेय (लेखक/पत्रकार, मध्यप्रदेश) सकारात्मक सोच जीवन में रंग भरता है, वहीं नकारात्मक सोच जीवन में निराशा उत्पन्न करता है। क्या आपने कभी सोचा कि मन में सबसे अधिक नकारात्मक सोच क्यों आता है। […]

जन्मदिन पर विशेष : देश के ख्यातिप्राप्त कवि, लेखक माखनलाल चतुर्वेदी

April 4, 2019 0

ये कलरव कण्ठ सुहाने लगते हैं संदर्भ:- जन्मतिथि-, 4 अप्रैल राजेश कुमार शर्मा “पुरोहित” कवि, साहित्यकार- “मुझे तोड़ लेना वनमाली उस पथ पर देना तुम फेंक मातृभूमि पर शीश चढ़ाने जिस पथ जावे वीर अनेक […]

दोहा छन्द अभ्यास की पाठशाला है शिवेतरक्षिति मंच:- राजेश पुरोहित

January 19, 2019 0

कवियों को दोहा विज्ञ सम्मान से सम्मानित किया जाएगा । भवानीमंडी:- (राजेश पुरोहित) शिवेतरक्षिति दोहा सृजन मंच सम्बन्धता साहित्य संगम संस्थान नई दिल्ली, राम सनेही घाट बाराबंकी उत्तर प्रदेश का साहित्यिक मंच है। मंच की […]

ग्रामविकास-अधिकारी परीक्षा के प्रश्नपत्रों में लज्जाजनक अशुद्धियाँ!

December 27, 2018 0

◆ प्रश्नपत्र बनानेवाले ‘प्रधानाध्यापक’, ‘लौकिक’, ‘द्विगु’, ‘कपड़ा’ आदिक नहीं लिख सके डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय २२ दिसम्बर-२३ दिसम्बर, २०१८ ई० को ‘ग्रामविकास-अधिकारी’ की परीक्षाएँ हुई थीं, जिनके सभी ‘सेट कोड’ और ‘परीक्षा पुस्तक सीरीज़’ में बड़ी […]

शहीद उधम सिंह का आज जन्मदिन, इस अमर शहीद को शत-शत नमन

December 26, 2018 0

शहीद उधम सिंह का आज जन्मदिन है | भारत की आज़ादी की लड़ाई में पंजाब के प्रमुख क्रान्तिकारी सरदार उधम सिंह का नाम अमर है। आम धारणा है कि उन्होने जालियाँवाला बाग हत्याकांड के उत्तरदायी […]

1 2 3 14
url and counting visits