ब्लॉक कोथावां में वोटर लिस्टों की बिक्री के नाम पर हो रही अवैध वसूली

क्या अयोध्या मामले को हल करने के प्रयास ने चन्द्रशेखर सरकार गिरायी थी?

April 17, 2021 0

डॉ॰ निर्मल पाण्डेय (इतिहासकार/व्याख्याता)– ‘जाओ और उनसे कह दो, चंद्रशेखर एक दिन में तीन बार अपने विचार नहीं बदलता….’ चन्द्रशेखर को इस्तीफ़ा वापस लेने के लिए मनाने आए शरद पवार यह बात अपनी आत्मकथा ‘ऑन […]

मंत्रियों को एक बार फिर मैदान में उतारने में देरी क्यों ?

April 8, 2021 0

(शाश्वत तिवारी) यह सर्वविदित है कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई एकजुटता से ही जीती जानी संभव है। इसके लिए जितनी गंभीरता योगी सरकार दिखा रही है, उतना ही अस्पताल प्रबंधन, स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर और […]

‌21वीं सदी के तीसरे दशक में प्रवेश

April 3, 2021 0

‌(शाश्वत तिवारी)‌‌आज हम सबके प्रगतिशील सोच वाले एक ‘न्यू इंडिया’ में जी रहे हैं। लेकिन महिलाओं की सामाजिक स्थिति, इस नए भारत पर भी सवाल खड़े करती है। मौजूदा समाज में भी महिलाओं की स्थिति […]

तो क्या एक्टिविस्ट उर्वशी शर्मा की शिकायतों पर जबरन सेवानिवृत किये गए आईपीएस अमिताभ ठाकुर ?

March 25, 2021 0

लखनऊ : 25 मार्च 2021 (By P. C. GUPTA) लखनऊ की नामचीन आरटीआई एक्टिविस्ट ने 02 अगस्त 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके प्रमुख सचिव नृपेन्द्र मिश्र के मार्फत 53 पेज के प्रमाणों के साथ पत्र लिखकर यूपी कैडर के आईपीएस अमिताभ […]

भारत हुए इन परिवर्तनों की वजह से सफल हो रहा क्वाड

March 15, 2021 0

शांतनु त्रिपाठी : 15 मार्च, नई दिल्ली। क्वाड्रीलेटरल सिक्योरिटी डायलॉग यानी क्वाड के राष्ट्राध्यक्षों का पहला वर्चुअल शिखर सम्मेलन 12 मार्च को संपन्न हुआ। इस दौरान भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदे […]

जब दुनिया मुश्किल में थी तब ये बड़े और खुद को खूबसूरत बताने वाले देश कहाँ थे : एस० जयशंकर

March 15, 2021 0

भारत विरोधी एजेंडा चलाने वाले देशों को विदेश मंत्री एस० जयशंकर ने दिया करार जवाब हम संविधान पर हाथ रखकर शपथ लेते हैं, किसी धार्मिक किताब पर नहीं : एस० जयशंकर शान्तनु त्रिपाठी (स्वतंत्र पत्रकार) […]

गाँधी, नमक क़ानून और सविनय अवज्ञा आन्दोलन

March 15, 2021 0

एक जीवन शैली के रूप में हर हिन्दुस्तानी में हिन्दुत्व की मौजूदगी उस नमक की तरह ही है, जिसके बिना जीवन का बेस्वाद होना तय है। नमक? जी हाँ… यहाँ इस आबोहवा में कुछ नहीं […]

हम भी उतने ही खटते हैं जितने आदमी लोग– सुमन

March 8, 2021 0

आज अन्तरराष्ट्रीय महिला-दिवस है और बौद्धिक वर्ग का मंच ‘सर्जनपीठ’, प्रयागराज की ओर से उस वर्ग की स्थिति के प्रति अपनी मुखरता व्यक्त की गयी है, जो दीर्घकाल से असमानता का व्यवहार झेलता आ रहा […]

दाने-दाने में भरी हैं ऐसी बीमारियाँ जो आपको गंभीर रोगों के साथ दे रही हैं मौत !

March 4, 2021 0

नशे पर विशेष अवनीश मिश्रा (सह सम्पादक, अवध रहस्य) तंबाकू से कैंसर होता है। शराब सेहत के लिए हानिकारक होती है । इन बातों को आज के समाज में रहने वाले बच्चे से लेकर बुजुर्ग […]

गुरुजी गोलवलकर जयन्ती : राष्ट्राय स्वाहा, इदं राष्ट्राय इदं न मम्

February 19, 2021 0

डॉ० निर्मल पाण्डेय (व्याख्याता/लेखक) ‘ये जीवन राष्ट्र का है, राष्ट्र को ही अर्पित है, ये मेरा नहीं है’ राष्ट्र को समर्पित । ऐसे मन्त्र के प्रणेता परम् पूज्य माधवराव सदाशिवराव गोलवलकर की आज जयन्ती है […]

“सबल पुरुष यदि भीरु बनें तो हमको दे वरदान सखी” : सुभद्रा कुमारी चौहान (पुण्यतिथि विशेष)

February 15, 2021 0

● आज (१५ फ़रवरी) सुभद्रा कुमारी चौहान की पुण्यतिथि है । -डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय (भाषाविद्-समीक्षक) सुभद्रा कुमारी चौहान : एक दृष्टि में जन्म— १६ अगस्त, १९०४ ई० को निहालपुर, इलाहाबाद मृत्यु-– १५ फ़रवरी, १९४८ ई० […]

स्वरक्तै: स्वराष्ट्रं रक्षेत् : चौरी चौरा आंदोलन के 100 वर्ष

February 4, 2021 0

डॉ० निर्मल पाण्डेय (इतिहास-व्याख्याता) : चौरी चौरा की घटना सौ सालों बाद आज भी इतिहास में अपने सही स्थान की बाट जोह रही है। 1922 में घटी इस घटना के साथ तत्कालीन ब्रिटिश सत्ता के […]

‘आवाज उठाने की स्वतंत्रता’ ही आज के समय में ‘गाँधीजी’ का जंतर है

January 30, 2021 0

डॉ० निर्मल पाण्डेय (इतिहास-व्याख्याता/लेखक) विद्रोह दरअसल ‘विरोध की वृत्ति/प्रवृत्ति’ की उन्नत अभिव्यक्ति है। विरोध करना सही मायनों में हमारे-आपके जीवित होने का प्रमाण है। और जो व्यवस्था ‘बिना किसी तर्क’, ‘बिना किसी बहस’ के विरोध […]

आज यदि ‘गांधी’ होते तो?

January 30, 2021 0

‘सर्जनपीठ’, प्रयागराज का राष्ट्रीय आन्तर्जालिक बौद्धिक परिसंवाद बौद्धिक, शैक्षिक, सांस्कृतिक, सामाजिक तथा साहित्यिक मंच ‘सर्जनपीठ’, प्रयागराज के तत्त्वावधान आज (३० जनवरी) एक राष्ट्रीय आन्तर्जालिक बौद्धिक परिसंवाद ‘काश! आज ‘गांधी’ होते’ विषय पर आयोजन किया गया, […]

शहरों में बिक रहा ज़ह्र, सरकार की अहम भूमिका

January 26, 2021 0

एक तरफ सरकार नशा मुक्त भारत का दिखावा करता है वहीं दूसरी तरफ नशा रूपी ज़हर को बेचने के लिए लाखों रूपए लेकर लाइसेंस देकर नशे को वैध बनवाकर बेंचने को प्रेरित भी कर रहा […]

संप्रभुता-रक्षा हेतु सतत संघर्षरत अपराजेय योद्धा महाराणा प्रताप को स्मरणांजलि

January 19, 2021 0

डॉ० निर्मल पाण्डेय (इतिहास-व्याख्याता/लेखक) : ‘आपने कभी अपने घोड़े पर मुग़लिया सल्तनत का शाही दाग़ नहीं लगने दिया, आपने अपनी पगड़ी कभी नहीं झुकायी, ना ही आपने अपने घोड़े पर शाही मोहर नहीं लगने दी। […]

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद: वैश्विक दायित्व को निभाने के लिए तैयार ‘न्यू इंडिया’

January 9, 2021 0

1 जनवरी 2021 से संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के गलियारे में भारतीय तिरंगा एक बार फिर से लहराने लगा है। इसके साथ ही सुरक्षा परिषद के अस्थायी सदस्य के रूप में भारत ने अपना आठवां […]

वे किसान नहीं, धूर्त्त और मक्कार हैं, पहचानिए!

January 4, 2021 0

— आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय उत्तरप्रदेश, उत्तराखण्ड, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार, झारखण्ड तथा राजस्थान के किसान ‘रजाई’ में क्यों दुबके हुए हैं? लज्जा नहीं आती, सिंघु बॉर्डर पर पंजाब-हरियाणा के बूढ़े-बच्चे-जवान, महिलाएँ एक पैर पर खड़ी […]

देश के प्रबुद्ध-वर्ग की नववर्ष में हिन्दी-भाषा की शुद्धता के प्रति आग्रह की अभिव्यक्ति

December 31, 2020 0

नववर्ष में हिन्दीभाषा की शुद्धता के प्रति समाज को हमारे साहित्यकार, अध्यापक तथा पत्रकार-वर्ग जागरूक करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। इसका लक्षण उस समय दिखा जिस समय ‘सर्जनपीठ’, प्रयागराज की ओर से नववर्ष की पूर्व-सन्ध्या […]

द्विदिवसीय आन्तर्जालिक अन्तरराष्ट्रीय संगोष्ठी सम्पन्न : डॉ. निशंक एक ऊर्जावान साहित्यकार

December 25, 2020 0

‘सिदो कान्हु मुर्मु विश्वविद्यालय’, दुमका (झारखंड) की ओर से ‘वातायन’ अंतरराष्ट्रीय शिखर सम्मान 2020 के संदर्भ में डॉ. निशंक का रचना-संसार’ विषय पर द्विदिवसीय आन्तर्जालिक (ऑन-लाइन) अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी (23-24 दिसम्बर) प्रयागराज के शंकराचार्य आश्रम में […]

1 2 3 27
url and counting visits