नरेन्द्र मोदी का विकल्प अब परिस्थिति के गर्भ में

February 18, 2018 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय  देश का अब तक सबसे बड़ा बैंकिंग घोटाला आपकी नाक के नीचे कर दिया गया और आप सोते रह गये!..? अब देश ऐसे लापरवाह चौकीदार को बदलने के लिए तत्पर है। कितनी […]

बी०एड० और टी०ई०टी० उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को उत्तरप्रदेश-शासन नियुक्त क्यों नहीं कर रहा

February 16, 2018 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय  यह समाचार उन विद्यार्थियों से सम्बन्धित है, जिन्होंने बी०एड्० और टी०ई०टी० (अध्यापक पात्रता परीक्षा) उत्तीर्ण की और वर्ष २०११ में प्राइमरी शिक्षक की भर्ती हेतु आवेदन किया था। उस समय २३ अगस्त, […]

देश के मीडिया-तन्त्र की विचारशक्ति कितनी ‘क्षीण’ है!

February 15, 2018 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय प्रत्येक मनुष्य की अपनी प्राथमिकताएँ होती हैं, जो पृथक्-पृथक् स्तर पर परिलक्षित होती रहती हैं। उन प्राथमिकताओं की पृष्ठभूमि में उसकी चिन्तन की गहनता और विचार की परिपक्वता होती है। उसके लिए […]

देश के राजनेतागण! धर्म की ‘अफ़ीम’ मत बाँटिए

February 15, 2018 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय देश की जनता को ‘हिन्दू-हिन्दुत्व’ और ‘मुसलमान-मुसलमानत्व’ का खेल मत दिखाइए; पहले स्वयं एक ‘मनुष्य’ बनिए, फिर अपने-अपने तरीक़े से भारत राष्ट्र को सुधारने का दावा कीजिए। यदि राष्ट्रहित में कुछ करने […]

नरेन्द्र मोदी! कब तक आप देशवासियों के साथ छल करते रहेंगे?

February 11, 2018 1

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय संयुक्त अरब अमीरात में भारत की आन्तरिक राजनीतिक गतिविधियों पर नकारात्मक विचार व्यक्त करते समय आपको लज्जा नहीं आयी? वहीं जब आपके पगचिह्नों पर चलते हुए, विपक्षी नेता राहुल गांधी और अन्य […]

सूती कपड़े से अधिक हाइजीनिक और कुछ नहीं

February 10, 2018 0

कोमल गुप्ता जी-  रानियां जब रजस्वला होती थीं तो बिना शृंगार के आरामदायक वस्त्रों में रहतीं। राजकार्यों से दूर रहतीं और अधिक से अधिक आराम करतीं। इससे लगभग सभी को पता होता था कि वे […]

परिषदीय विद्यालयों की दशा व शिक्षण व्यवस्था का गिरता स्तर

February 9, 2018 1

कछौना(हरदोई): परिषदीय विद्यालयों की दशा व शिक्षण कार्य विभागीय अधिकारियों की खाऊ-कमाऊ नीति के चलते दिन पर दिन स्तर सुधरने के स्थान पर गिरता चला जा रहा है जहाँ अभिभावकों का मोह भंग हो रहा […]

देश के बेरोज़गार युवाओ! ‘सियासत’ से दूर रहो

January 30, 2018 1

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय ‘हिन्दू-मुसलमान’ की राजनीति करनेवाले देश के युवा बेरोज़गारो! पहले अपनी सामाजिक स्थिति सुदृढ़ करो। इसके लिए तुम सभी को प्रत्येक स्थिति में स्वावलम्बी बनना होगा। तुम्हें ‘राष्ट्र का कर्णधार’ कहकर तुम्हारे साथ […]

‘हिन्दू-मुसलमान’ के नाम पर कब तक आग लगाते रहोगे

January 27, 2018 1

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय-  कासगंज (उत्तरप्रदेश) इन दिनों साम्प्रदायिकता की आग में धधक रहा है और वहाँ का प्रशासन पर्याप्त सुरक्षाबल उपलब्ध होने की बात करने के बाद भी उपद्रवियों पर अंकुश लगाने में असफल सिद्ध […]

नारियों को मनोरंजन की वस्तु मत बनाइए

January 25, 2018 0

कोमल गुप्ता – मैं फिल्मों को मनोरंजन के साधन से अधिक महत्त्व नहीं देती। लेकिन प्रश्न है कि, ‘जोधा, मीरा, राधा, पद्मावती, सीता ही क्यों? द विन्ची कोड में क्राइस्ट के पुत्र जन्म पर बहुत […]

1 2 3 24
url and counting visits