लोकतंत्र में पत्रकार पर आफत

September 25, 2017 0

राम वशिष्ठ- 20 सितंबर 2017 यानि पाँच दिन पहले त्रिपुरा के मंडई में स्थानीय टीवी पत्रकार शांतनु भौमिक की अपहरण के बाद हत्या कर दी गई । शांतनु की हत्या पर ऐसा आक्रोश नहीं दिख […]

रोहिंग्‍या शरणार्थियों को लेकर भारत में भी सियासत जलती रोटियाँ

September 20, 2017 0

राघवेन्द्र कुमार राघव- रोहिंग्‍या शरणार्थियों को लेकर भारत में भी सियासत की रोटियाँ जलायी जा रहीं हैं । रोटियाँ सेंकी जाती तो मामला खाने-पीने तक रह जाता । लेकिन यहाँ तो मामला धार्मिक रंग ले […]

गले की हड्डी बनते रोहिंग्या शरणार्थी!

September 20, 2017 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय- इन दिनों अन्तरराष्ट्रीय मंचों से रोहिंग्या मुसलमानों के विस्थापन का विषय तूल पकड़ता जा रहा है, जो स्वाभाविक है। ऐसा इसलिए कि जिन्हें ‘बाँग्लादेशी’ मुसलमान, कहा जाता है, वे ही ‘रोहिंग्या’ मुसलमान […]

भारत के प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी जी! देश की जनता को आपका उत्तर चाहिए

September 20, 2017 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय (यायावर भाषक-संख्या : ९९१९०२३८७०, prithwinathpandey@gmail.com) याद कीजिए, नरेन्द्र मोदी! देश में ‘संयुक्त प्रगतिशील गठबन्धन’ (यू०पी०ए०) का शासन था और आपका दल प्रतिपक्षी हुआ करता था तब लोकसभा-चुनाव के समय जनसभा को सम्बोधित […]

कमज़ोर नहीं है हिन्दी

September 14, 2017 0

राघवेन्द्र कुमार ”राघव”- हर बार की तरह इस बार भी १४ सितम्बर हिन्दी की याद दिला गया । हिन्दी का विकास हो रहा है, प्रचार – प्रसार में बड़ी -बड़ी बातें कहते हुए नीति नियन्ता, […]

देश प्रमुख विश्वविद्यालयों के छात्रसंघ-चुनावों में ‘अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद्’ का वर्चस्व समाप्त !

September 13, 2017 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय- विद्यार्थी परिषद् की एक बड़ी आस जे०एन०यू० से पूरी तरह से सफ़ाया हो जाने के बाद दिल्ली विश्वविद्यालय में अपने वर्चस्व को बनाये रखने की थी, वह भी समाप्त हो गयी है। […]

तो क्या ऐसे स्कूलों में व्यभिचारी, बलात्कारी तथा हत्यारे पढ़ाते हैं?

September 12, 2017 1

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय- बच्चे कल के ‘भविष्य’ हैं। बच्चे बदलते भारत की सच्ची तस्वीर हैं। बच्चे कल के राष्ट्र-कर्णधार हैं। हमारे देश का सारा समाज, सारे राजनेता एक स्वर में इन सारी बातों को स्वीकार […]

1893 ई. में अमेरिका के शिकागो में स्वामी विवेकानंद के दिए गए भाषण के 125 वर्ष पूरे

September 11, 2017 0

राघवेन्द्र कुमार राघव- 1893 ई. में अमेरिका के शिकागो में स्वामी विवेकानंद के दिए गए भाषण के 125 वर्ष पूरे होने के मौके पर स्वामी विवेकानंद जी की शिक्षाओं को अपनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र […]

देश के सभी विद्यालयों को अब ‘क़ानूनी आईना’ दिखाने की ज़रूरत

September 11, 2017 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय देश के समस्त स्कूलों के लिए उच्चतम न्यायालय के निर्भीक – निडर- निश्छल न्यायाधीशगण अपनी देख-रेख में ‘मार्गदर्शिका’ बनवाकर कठोरता के साथ परिपालन करवायें, वरना ये स्कूल “डंके की चोट पर” हर […]

उत्तरप्रदेश के राज्यपाल ‘धृतराष्ट्र’ क्यों बने हैं ?

September 5, 2017 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय- उत्तर प्रदेश के चिकित्सालयों में प्रतिदिन दहाई में बच्चे क्यों मर रहे हैं ? अभी तक मरने का ठोस कारण क्यों नहीं बताया गया है ? जाँच – रिपोर्ट से स्पष्ट होता […]

1 2 3 16
url and counting visits