केंद्रीय मार्गदर्शक मण्डल की बैठक में धार्मिक आदर्शों को अपनाने पर सहमति बनी

शिव सत्संग मण्डल की केंद्रीय मार्गदर्शक मण्डल की बैठक गत शाम 8 बजे से आश्रम हुसैनापुर धौकल गाँव में हुई। जिसमे पदाधिकारियों में धार्मिक आदर्शों को अपनाने पर सहमति बनी।संत श्रीपाल के सानिध्य में हुई । बैठक में मण्डल के समस्त पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा गया कि मण्डल के धार्मिक और सामाजिक अभियान के लिए प्रचारक गाँव गाँव जाकर प्रचार कार्य पूरे मनोयोग से करें। संत ने कहा कि धर्म – अध्यात्म से ही समाज में सुख शांति का वातावरण सृजित होता है।
इसके साथ ही सदयता अभियान में गति देने के लिए सक्रिय रहने पर जोर दिया गया। मण्डल प्रमुख ने सभी से परिचय पत्र बनबाने के निर्देश दिए। सभी पदाधिकारियों से साम्प्रदायिक सद्भावना एवं अंध श्रद्धा निर्मूलन को सत्संग में जोर शोर से उठाने पर प्रकाश डाला गया।लखनऊ मण्डल के अध्यक्ष राजेश पाण्डेय ने  शाकाहार को जीवन का आधार बताया।उन्होंने कहा कि वैदिक मन्त्रों के आधार पर धर्म पर चलें।और वेद उपनिषदों के प्रेरक प्रसंगों से प्रेरणा लेकर स्व स्फूर्त भवन से आगे बढ़ें।बैठक में  वार्षिक आत्मोत्थान पत्रिका प्रकाशित करने की सहमति बनी।इसके अलावा  संबंधों में सद्भाव और परस्पर सहयोग, सत्संग व धर्मोत्सव शिविर समेत अनेक समसामयिक महत्वपूर्ण बिंदुओं पर परिचर्चा हुई।मार्गदर्शक मण्डल की बैठक का शुभारम्भ स्वामी शांतानंद ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया।सामूहिक प्रार्थना से शुरू हुए इस कार्यक्रम का समापन शिव संकल्प लेकर किया गया। बैठक में संयोजक अम्बरीष कुमार सक्सेना,राष्ट्रीय महामंत्री त्रिपुरेश पाण्डेय,प्रचार प्रमुख महावीर सिंह, विनोद मिश्रा जिलाध्यक्ष अशोक सक्सेना,जमुना प्रसाद,जिला महामंत्री रविलाल सिंह राजपूत,कोष प्रमुख सत्येंद्र गुप्ता,योग शिक्षिका परोमिता सरकार डॉ संदीप चौरसिया ,डॉ कलिका प्रसाद वर्मा ,डॉ एन लाल,डॉ रघुनाथ,जमुनादीन,कार्यकारिणी सदस्य रामकृष्ण,एस पी राठौर,एस पी गुप्ता,देव सिंह ,स्वामी दयाल,राम कुमार समेत सभी पदाधिकारी मौजूद रहे।
url and counting visits