बाँदा से खदेड़े गए सिंडिकेट के गुर्गे

सरकारी तामझाम के दम पर खनिज वाहनों से रोज वसूलते थे डेढ़ करोड़

Amja India– प्रदेश की बदली चुनावी हवा और सत्ता का मिजाज बदलते देख बुधवार की रात से ही जहां तहां फैले सिंडिकेट के गुर्गे आज तड़के ही बाँदा जिले से खदेड़ दिए गए। सिंडिकेट ख़तम होने की मुनादी होते ही अब खनिज मोरम,गिट्टी से लदे ट्रको को अब वह रकम नहीं देनी पड़ेगी जो उन्हें अब तक 6 चक्का,8 चक्का,10चक्का,12 चक्का के हिसाब से देने पड़ते थे। बताते चले की अभी तक बाँदा जिले की सीमा व् विभिन्न सड़को से निकलने वाले खनिज मोरम व् गिट्टी से लदे वाहनों को सिंडिकेट के नाम पर प्रतिदिन प्रति ट्रक के हिसाब से 5,6,7 हजार रुपये गुण्डाटैक्स देना पड़ता था। जो कुल मिलाकर हर रोज डेढ़ करोड़ रुपया बैठता था। और इस गुंडा टैक्स का बोझ सीधे वाहन चालक और उपभोक्ता को उठाना पड़ता था। लेकिन अब जिले के आलाधिकारियों को यह आभास होने लगा कि प्रदेश की सत्ता व् निजाम दोनों बदलने वाले है,तब उन्होंने अपने असली रूप में आकर सिंडिकेट के करीब एक सैकड़ा गुर्गो को बाँदा जिले की सीमा से बाहर खदेड़ दिया। इस कार्रवाई से एक ओर जहां मोरम गिट्टी के जरुरत मंद लोगो ने राहत की साँस ली है,वही वाहन चालकों में भी ख़ुशी का माहौल है।

url and counting visits