ब्लॉक कोथावां में वोटर लिस्टों की बिक्री के नाम पर हो रही अवैध वसूली

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सरसवा में प्रसूताओं से हो रही है धन उगाही

Corruption Feature IV24

मंझनपुर, कौशांबी। उत्तर प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी जननी सुरक्षा योजना के तहत प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सरसवा में केंद्र प्रभारी डाक्टर संजय गुप्ता के इशारे पर गरीब प्रसूताओं से प्रसव कराने के नाम पर स्टॉफ नर्स व एएनएम द्वारा ₹500 की धन उगाही की जाती है। धमकी भी दी जाती है कि अगर पैसे नहीं देंगे तो आपका कोई काम नहीं होगा और हम काम करते हैं तो काम का दाम लेते हैं। वहां की दाई भी अपना रेट 200 रू फिक्स करके रखी है। मौके पर पहुंचे मीडियाकर्मी ने देखा की वहां मरीजों से धन उगाही चल रही है।और लिस्ट के अनुसार भोजन भी उन मरीजों को नहीं मिल पाता है।

सरकारी अस्पताल में मौजूद आशा बहू से पूछा गया तो उसने बताया कि यहां मरीजों को मेनू के अनुसार प्रसुताओं को भोजन नहीं दिया जाता है और हर पेशेंट से ₹500 लिए जाते हैं। डाक्टर चैंबर पहुंच डाक्टर से मिलने की कोशिश की गई तो सम्बंधित डाक्टर भी आफिस से नदारद दिखे। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सरसावा में आए दिन गरीबों से निशुल्क सेवा के नाम पर पैसे की धन उगाही की जाती है। मुख्य चिकित्साधिकारी इन घूसखोरों पर शिकायत के बावजूद कोई कार्यवाही नहीं कर रहे है। स्वास्थ्य विभाग महकमे के सक्षम अधिकारी आंखें मूंद कर बैठे है। ग़रीब असहाय प्रसूताओं से निःशुल्क चिकित्सा के नाम पर ठगी की जा रही है।

मंझनपुर से विजय करन की रिपोर्ट

url and counting visits