सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

डी एम ने किया सिटी और देहात कोतवाली का मुआयना

दोनों कोतवालों पर गिरी गाज, एसपी ने किया लाइन हाजिर

जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना ने आज शहर और देहात कोतवाली का पुलिस अधीक्षक विपिन मिश्र के साथ आकस्मिक निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने कार्यालय, मालखाना, पुरूष बन्दीगृह, बैरक, मेस, स्वागत कक्ष, कम्प्यूटरीकृत जीडी रूम सहित पूरे परिसर का निरीक्षण किया। सिटी कोतवाली कार्यालय धूल मिली। अधीनस्थों की कुर्सियां टूटी मिलीं।

डीएम ने कोतवाल कमलेश नारायण पाण्डेय को तत्काल उनके कार्यालय की सही सलामत कुर्सियां डलवाने के निर्देश दिए। बैरक के निरीक्षण में एक भी रिजर्व जवान नही पाया। कोतवाल ने बताया कि रिजर्व जवान पुलिस लाइन में रहते हैं। डीएम ने बैरक में मानक के अनुरूप जवानों के स्थायी रूप से रूकने के निर्देश दिए। मेस में गन्दगी मिलने पर सफाई को कहा। प्रांगण में खड़े सीज वाहनों की औपचारिकतायें पूरी कर निस्तारण के निर्देश दिये। कम्प्यूटरीकृत जीडी रूम के निरीक्षण के दौरान समयानुसार डेटा अपडेटिंग नहीं मिली। शहर कोतवाली के निरीक्षण में अव्यवस्थाओं पर डीएम ने शहर कोतवाल कमलेश नारायण पाण्डेय को हटाने के निर्देश पुलिस अधीक्षक को दिए। देहात कोतवाली के निरीक्षण के दौरान भी डीएम को तमाम अव्यवस्थाएं मिलीं। इसकी गाज कोतवाल हीरालाल चौरसिया पर भी गिरी। एसपी ने पाण्डेय और चौरसिया, दोनों को लाइन हाजिर कर दिया।

-अंतर्ध्वनि एन इनर वॉइस ब्यूरो