पति के मामू ने किया बलात्कार, पीड़िता ने डीजीपी से की शिकायत

लॉकडाउन होने के कारण पान उत्पादक चौरसिया बिरादरी घोर संकट में

तन्मय मुखर्जी-

कोरोना वायरस से पूरा देश अस्त-व्यस्त हो गया है। पूरा देश 21 दिन के लिए लाॅकडाउन कर दिया गया है । ऐसे में समाज का प्रत्येक व्यक्ति भीषण समस्याओं का सामना कर रहा है ।

समाज का एक वर्ग है चौरसिया बिरादरी, जो मूल रूप से पान का व्यापार करता है । पान बड़ा ही कोमल होता है इसका भण्डारण सम्भव ही नहीं है । दो-तीन दिनों के बाद पान सड़ना शुरू हो जाता है और शीघ्र ही नष्ट हो जाता है । ऐसे में चौरसिया महासभा उत्तरप्रदेश ने सरकार से मांग की  है कि जिस तरह दूध, सब्जी, राशन, फल बिक रहा है उसी तरह सरकार पान व्यापारियों को भी पान बेचने की कुछ मोहलत दे दे क्योंकि पान व्यापारियों का सारा का सारा पान सड़ रहा है, जिससे उन्हें बड़ी आर्थिक क्षति उठानी पड़ रही है ।

चौरसिया महासभा के पदाधिकारीगण

हालांकि पान सामान्य व्यक्ति के लिए आवश्यक वस्तु नहीं है किन्तु पान उत्पादकों (किसानों) के लिए यह अत्यावश्यक है । सरकार को इस पान उत्पादक समाज की समस्या को देखते हुए ठोस क़दम उठाने की ज़रूरत है, जिससे पान के किसानों को भुखमरी का सामना न करना पड़े ।

url and counting visits