सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

झुग्गी-झोपड़ियों में रह रहे बच्चों के साथ मनाया आङ्ग्ल नववर्ष

हरदोई। एक तरफ जहां लोग नए साल के जश्न में डूबे हुए थे, वहीं स्वाति सिंह पत्नी अनुज कुमार सिंह ट्रस्टी भारत उन्नयन ट्रस्ट, जन कल्याण समिति ने भीड़भाड़ से दूर गुपचुप तरीके से झुग्गी-झोपड़ियों में रह रहे बच्चों के साथ नया साल मनाया।

कहते है पैसे वाले लोग नया साल बड़े शौक से मनाते हैं। कोई रेस्टोरेंट में जाकर जश्न मनाता है तो कोई पब और क्लब में जाकर अपने और परिवार के शौक पूरे करता है। ऐसे बच्चे जो रोटी के लिए भी कड़ी मशक्कत करते हों, ऐसे बच्चे और उनके परिजन रेस्टोरेंट या क्लब जाने के बारे में तो सपनों में भी नहीं सोच सकते। ऐसे बच्चों के सपनों को ट्रस्टी स्वाति सिंह व शिखा सिंह ने साकार किया। भारत उन्नयन ट्रस्ट के ट्रस्टी अनुज कुमार सिंह ने अपनी टीम के साथ हरदोई के नयागांव मुबारकपुर और झुग्गी-झोपड़ीवासियों के बीच पहुंचे और वहां पर जाकर उन्होंने वहां रहने वाले बच्चों के साथ नया साल सेलिब्रेट किया। बच्चों के लिए कई सारे गिफ्ट और खाने पीने का सामान लेकर पहुंचे। इस दौरान उनके साथ महिला सदस्य भी रही। बच्चे यह खास इंतजाम देख काफी उत्साहित हुए। बच्चों ने इस मौके पर संगीत की धुनों पर थिरककर अपने उत्साह का प्रदर्शन किया। बच्चों को खानपान का सामान देकर विदा किया गया और उन्हें शिक्षा के लिए जागरूक करने के साथ मदद का भी आश्वासन दिया गया।

ट्रस्टी अनुज कुमार सिंह ने बताया कि अधिकांश बच्चे आर्थिक रूप से कमजोर तबके से ताल्लुक रखते हैं। इनकी शिक्षा पर खास ध्यान दिए जाने की जरूरत है। नव वर्ष पर हमारा संकल्प है कि इन बच्चों की जितनी संभव होगी उतनी मदद की जाएगी। जिससे ये बच्चे शिक्षा और स्वालंबन के रास्ते पर आगे बढ़ सकें।

रिपोर्ट – पी०डी० गुप्ता