मतदान आपकी जिम्मेदारी, ना मज़बूरी है। मतदान ज़रूरी है।

सेनेटाइज़ेशन के कार्य मे तेज़ी लाने के लिए अधिशासी अधिकारी ने स्वयं तैयार कराई मशीन

विजय कुमार, अझुवा/कौशांबी

● सेनटाइज़़र बनाने के लिए प्रति पचास लीटर पानी में दो लीटर सोडियम हाइपोक्लोराइड, दो लीटर ब्लीचिंग लिक्विड और एक लीटर मैलाथियान दवा मिलाई जाती है ।

नगर पंचायत अझुवा के अधिशासी अधिकारी सूर्य प्रकाश के अनुसार कोरोना आपदा के चलते नगर के लोगों पर संक्रमण के खतरे को कम करने के लिए सेनेटाइजेशन का कार्य सफाई कर्मियों द्वारा कराया जा रहा था । लेकिन क्षेत्र बड़ा होने और संख्या कम होने से जरूरत के अनुसार सेनेटाइजेशन का कार्य नही हो पा रहा था । तो ईओ ने सेनेटाइजेशन के कार्य को विस्तार देने के लिए जुगाड़ू मशीन स्वयं तैयार करने का निर्णय लिया। इसके लिए प्रयागराज जाकर वहां से जरूरी उपकरण स्वयं खरीदकर लाए। फिर 500 लीटर की टंकी मंगाई और ड्राइवर धीरज ने नगर पंचायत की गाड़ी में सभी उपकरणों को फिट करवाकर एक जुगाड़ू सेनेटाइजेशन संयंत्र तैयार किया।

आज 10 अप्रैल का लगभग पूरा दिन इसे तैयार करने मे लग गया, लेकिन मशीन तैयार हो गई और इससे मैनुअली सेनेटाइजेशन की तुलना मे बहुत तेजी से नगर को सेनटाइज किया जा सकेगा। मशीन बनते ही इससे सेनेटाइजेशन का कार्य शुरू करा दिया गया है। नगर को सेनटाइज करने के लिए उन्होंने अवगत कराया कि प्रति पचास लीटर पानी मे दो लीटर सोडियम हाइपोक्लोराइड, दो लीटर ब्लीचिंग लिक्विड और एक लीटर मैलाथियान दवा मिलाई जाती है ।इस प्रकार घोल तैयार कर इसे मशीन से जुड़ी 500 लीटर की टंकी मे भर दिया जाता है और इससे सड़कों,नालियों एवं सार्वजनिक जगहों पर सेनेटाइजेशन कराया जा रहा है।