संजय सिंह, सांसद, आप ने पेयजल एवं स्वच्छता मिशन पर उठाए सवाल! | IV24 News | Lucknow

मोदीभक्तगण! उत्तर दीजिए

आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय

★ आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय

एक बार पीछे मुड़कर अपने साये से सवाल कीजिए, हमारी राष्ट्र की सुरक्षा का स्तर कितना गिर चुका है? विदेश और रक्षानीति कितनी समझौतावादी हो चुकी है? चीन, भूटान, नेपाल आँखें दिखा रहे हैं और हमारे सत्ताधारी नेता देश में ‘फूट की राजनीति’ कर रहे हैं? नोटबन्दी, जी० एस० टी०, सरकार की अदूरदर्शी आर्थिक नीति तथा कोरोना के दुष्प्रभाव के कारण लाखों लोग बेरोज़गार हो चुके हैं। ऐसे में, आपको पेट्रोल-डीज़ल की बढ़ती क़ीमत का एहसास तक नहीं है? धिक्कार है!

ख़ुद को ‘चौकीदार’ और ‘फ़कीर’ कहनेवाला जो व्यक्ति लाखों रुपये का वस्त्र और आभूषण धारण करता हो; प्रत्येक दिन अलग-अलग वेशक़ीमती परिधान में दिखता हो; हम देशवासियों के रुपयों का अपव्यय करते हुए, जिसने अपने लिए अनेक ‘उड़न खटोले’ ख़रीदवाये हों; अपने लिए देश में आयी आपदा-विपदा के प्रति जिसकी संवेदनशीलता नपुंसक बन चुकी हो; कोरोना के चरम काल में मारे गये, सेवाविहीन हुए लाखों देशवासियों के प्रति जिसकी सह और सम-अनुभूति न रही हो; पी० एम० केअर फण्ड’ के नाम से जिसने अवैध तरीक़े से देशवासियों की अकूत धनराशि डकारे हों, ऐसे लोभी और हृदयविहीन ‘नरेन्द्र मोदी का विकल्प’ पूछनेवालों की जिह्वा कटकर गिर क्यों नहीं जाती?

(सर्वाधिकार सुरक्षित– आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय, प्रयागराज; २६ अक्तूबर, २०२१ ईसवी।)