सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

यूपी स्थापना दिवस और स्वच्छ विरासत अभियान के समापन पर गोपूजन का आयोजन

उत्तर प्रदेश सरकार में नगर विकास विभाग के विशेष सचिव डॉ. राजेन्द्र पेंसिया ने कहा कि घरों से निकालकर सड़कों पर फेंक जाने वाला कूड़ा गोवंश के लिए जानलेवा साबित हो रहा है। उन्होंने बताया कि गलियों में फेंकी गई प्लास्टिक का सामान और बाल गाय खा रही हैं। गायों के पेट में यह प्लास्टिक और बाल एक बड़े से ‘हेयर बॉल’ का रूप ले लेती है, जिससे गायों की मृत्यु तक हो जा रही है। इसी के दृष्टिगत मा0 मुख्यमंत्री जी की पहल पर प्रदेश की 513 गौशाला में 76 हजार गोवंश को संरक्षित किया जा रहा है।

डॉ. राजेन्द्र पेंसिया आज मंगलवार को उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस के अवसर पर नादरगंज स्थित कान्हा उपवन में आयोजित गौ पूजन एवं स्वच्छ विरासत समापन समारोह में प्रतिभाग किया। उन्होंने गौ पूजन के साथ कार्यक्रम की शुरुआत की। वहीं गौ संरक्षण के लिए कूड़े के समूचित निस्तारण में योगदान देने की अपील की।

समारोह के समापन दिवस पर पोस्ट सेग्रिगेशन को लेकर जागरूकता का प्रसार किया गया और सूखे व गीले कचरे को किस प्रकार पृथक करना है व उसके क्या फायदे हैं, इस संबंध में भी जानकारी दी गयी। इसके अतिरिक्त सिंगल यूज प्लास्टिक को कम से कम इस्तेमाल में लाये जाने की अपील कर इसके दुष्प्रभावों से अवगत कराया गया। साथ ही टॉयलेट क्लीनिंग व अन्य को लेकर भी सकारात्मक संदेश दिए गए।

समारोह में कान्हा उपवन के लगभग 250 कर्मचारी व उनके बच्चे मौजूद रहे। इन कर्मचारियों के रहने के लिए नगर निगम द्वारा आवासीय व्यवस्थाएं की सुनिश्चित कर दी गयी हैं। साथ ही इनके बच्चों के उज्ज्वल भविष्य के दृष्टिगत कान्हा उपवन में विद्यालय भी खुलवाए गए हैं। जिससे यहां के कर्मचारियों के बच्चों को निःशुल्क शिक्षा मुहैया कराई जा सके।

आज आयोजन के समापन दिवस में विशेष सचिव नगर विकास श्री राजेन्द्र पनेसिया के साथ अपर नगर आयुक्त डॉ अरविंद कुमार राव एवं श्री अवनीन्द्र कुमार के साथ ही अन्य कर्मचारीगण मौजूद रहे।