सरकार शिक्षकों पर मशीन द्वारा शासन करने का कर रही प्रयास 

हरदोई– उत्तर प्रदेश के प्राथमिक शिक्षक संघ के आवाह्न पर कोथावाँ ब्लॉक की इकाई ने खंड शिक्षा अधिकारी के माध्यम से महानिदेशक स्कूली शिक्षा को ज्ञापन भेजा। साथ ही डिजिटलाइजेशन के नाम पर ब्लॉक किए जा रहे उत्पीड़न के विरुद्ध  शिक्षकों ने ब्लॉक संसाधन केन्द्र बेनीगंज पर संक्षिप्त धरना-प्रदर्शन कर हुंकार भरी। ब्लॉक अध्यक्ष अन्तर्यामी बाजपेई की अध्यक्षता में प्रतिनिधिमंडल ने अपनी मांगपत्र खण्ड-शिक्षाधिकारी के माध्यम से महानिदेशक स्कूली शिक्षा को भेजा।

शिक्षक आदित्य त्रिपाठी ने बताया कि वर्तमान समय में शिक्षकों पर मशीन द्वारा शासन करने का प्रयास किया जा रहा है जो कि व्यावहारिक नहीं है। विभाग द्वारा शिक्षकों को टैबलेट उपलब्ध कराए गए हैं परंतु सिम का कहीं अता-पता भी नहीं है, ऐसी स्थिति में किसी भी कार्य को निष्पादन कैसे सम्भव है? शिक्षकों को मात्र 14 अवकाश मिलते हैं, फिर भी ऑनलाइन उपस्थिति की बात की जा रही है ऐसे में यदि कोई भी शिक्षक किसी दिन मात्र कुछ सेकेण्ड लेट हो जाता है तो वह अनुपस्थित माना जाएगा। अन्तर्यामी बाजपेई ने कहा अधिकांश विद्यालय ग्रामीण क्षेत्र में स्थित है जहां आने-जाने गया रास्ता सही नहीं है, विपरीत परिस्थितियों में प्रतिदिन ऑनलाइन हाजिरी के उन्हीं 15 मिनट के बीच पहुँच पाना असम्भव कार्य है, मशीन मिनट दो मिनट लेट होने पर भी उसे अनुपस्थित कर देगी जो कि अन्याय है। जब तक हमारी राज्य कर्मियों की भांति 31 ई.एल. व उसकी आधी सी.एल. की मांग नहीं मानी जाती तथा सिम व डाटा उपलब्ध नहीं कराया जाता, तब तक कोई भी शिक्षक टैबलेट पर काम नहीं करेगा। इस अवसर पर मुख्य रूप से महेन्द्र पाल सिंह,आदित्य त्रिपाठी, प्रदीप कुमार सिंह, करुणेन्द्र प्रताप सिंह, स्नेह मिश्र, पंकज कुमार, अरुणेंद्र प्रताप सिंह, सौरभ कुमार, राजेश सिंह आदि उपस्थित रहे।