थाना सहसवान व मूसाझाग पुलिस को मिली बड़ी सफलता, अवैध शराब के सिण्डीकेट का पर्दाफाश करते हुए 04 व्यक्तियों को किया गिरफ्तार

अंकित सक्सेना बदायूँ-

  • थाना सहसवान व मूसाझाग पुलिस द्वारा 02 अवैध शराब भट्टियों समेत कुल 120 लीटर कच्ची शराब व 41 पव्वे देशी शराब बरामद करते हुए 04 व्यक्तियों को गिरफ्तार किये जाने के संबंध में ।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद बदायूं अशोक कुमार त्रिपाठी के निर्देशन में अवैध शराब की तस्करी/निष्कर्षण/ बिक्री व वितरण के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान के अन्तर्गत आज दिनांक 17.07.2019 को थाना सहसवान पुलिस एवं आबकारी विभाग की संयुक्त टीम द्वारा ग्राम मुडारी सिधारपुर के एक बाग में अवैध शराब निर्माण करते हुए अभि0 शैलेन्द्र पुत्र रतनपाल नि0 मुडारी सिधारपुर थाना सहसवान जनपद बदायूं को मौके से 60 लीटर कच्ची शराब, 02 किलोग्राम यूरिया व शराब बनाने के विभिन्न उपकरण सहित गिरफ्तार किया गया ।

इस दौरान टीम को आते देखकर एक अन्य अभि0 पूसे पुत्र बलवीर सिंह नि0 उपरोक्त मौके से फरार हो गया जिसकी गिरफ्तारी हेतु प्रयास जारी हैं । इसके अतिरिक्त संयुक्त टीम द्वारा मुखबिर की सूचना पर कस्बा सहसवान के पुराने अस्पताल की बिल्डिंग में छापा मारा जिसमें अवैध शराब निर्माण करते हुए नाहर सिंह पुत्र रूपराम कश्यप नि0 ग्राम रसूलपुर वेला थाना सहसवान जनपद बदायूं को मौके से 40 लीटर कच्ची शराब, 02 किलोग्राम यूरिया व शराब बनाने के विभिन्न उपकरण सहित गिरफ्तार किया तथा अन्य अभि0 मेघ सिंह पुत्र तेजपाल नि0 उपरोक्त फरार होने में सफल रहा जिसकी गिरफ्तारी हेतु प्रयास किये जा रहे हैं । इसके साथ ही 20 लीटर नाजायज कच्ची शराब ले जाते हुए काशीराम कॉलोनी मो0 जहांगीराबाद से अभि0 आलू पुत्र धान सिंह नि0 मुडारी सिधारपुर थाना सहसवान जनपद बदायूं को गिरफ्तार किया गया ।

उक्त के सम्बन्ध में थाना स्थानीय पर क्रमशः मु0अ0सं0 307/19 धारा 60(2) आबकारी अधि0 व 272/273 भादवि, मु0अ0सं0 308/19 धारा 60(2) आबकारी अधि0 व मु0अ0सं0 309/19 धारा 60 आबकारी अधि0 पंजीकृत करते हुए समस्त गिरफ्तार अभि0गण को माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया गया ।

उक्त अभियान के अन्तर्गत ही थाना मूसाझाग पुलिस द्वारा कुल 41 पव्वे अवैध देशी शराब सहित अभि0 संतोष पुत्र रक्षपाल सिंह नि0 ग्राम उतरना थाना मूसाझाग जनपद बदायूं को गिरफ्तार किया गया जिसके सम्बन्ध में थाना स्थानीय पर मु0अ0सं0 159/19 धारा 60 आबकारी अधिनियम पंजीकृत करते हुए विधिक कार्यवाही की जा रही है ।

url and counting visits