कोथावाँ प्रा०वि० का हाल, बच्चों को दूध और फल नहीं दे रहे जिम्मेदार

क्षेत्र को कुष्ठरोग मुक्त बनाने की स्वास्थ्यकर्मियों ने ली शपथ

कछौना (हरदोई) : राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पूर्ण तिथि पर शनिवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कछौना में राष्ट्रीय कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम व स्पर्श कुष्ठ जागरूकता अभियान के तहत जिला अधिकारी को घोषणा पत्र देकर सभी स्वास्थ्य कर्मियों ने पूरे क्षेत्र को कुष्ठ रोग मुक्त करने की शपथ ली।

स्वास्थ्य कर्मियों ने शपथ लेते हुए कहा कुष्ठ रोग से प्रभावित व्यक्ति से किसी प्रकार का भेदभाव नहीं करेेंगे और न ही किसी दूसरे व्यक्ति को इस रोग से पीड़ित व्यक्ति से भेदभाव करने देंगे। साथ ही व्यक्तिगत और सामूहिक रूप से कुष्ठ रोग से पीड़ित व्यक्तियों को समाज की मुख्य धारा में लाने के लिए कुष्ठ रोगी व्यक्तियों पर लगे कलंक व भेदभाव को समाप्त कर बापू जी के आदर्शो पर चलकर अपना योगदान दें। स्वास्थ्य कर्मियों ने लोगों से अपील करते हुए कहा कुष्ठ रोगी के साथ उठना, बैठना, खाना, पीना व रोटी बेटी का व्यवहार करें। कुष्ठ रोगी का पूर्णतः उपचार है। इनके इलाज में देरी होने पर विकलांगता हो जाती है। कुष्ठ रोग होने पर अपने पास के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर संपर्क करें, ताकि उसका समय पर इलाज हो सकें। कुष्ठ रोगी चिन्हित होने पर सरकार द्वारा उसे 2500 रुपये प्रति माह पेंशन भी मुहैया कराई जाती है।

इस अवसर पर प्रभारी अधीक्षक डॉ० किसलय बाजपेई, रेड क्रॉस सोसाइटी के वरिष्ठ सामाजिक कार्यकर्ता डॉ० एस०पी० सिंह, राजेश कुमार सिंह, अखिलेश वर्मा, सुभाष कुमार, हरिओम दिक्षित, विकास सिंह, प्रवीण कुमार, डॉ० मनीष मिश्रा ,अरविंद शुक्ला फार्मासिस्ट, डॉ० उस्मान, युवा भाजपा नेता सलिल दीक्षित व पत्रकार साथी गण मौजूद रहे।

रिपोर्ट – पी०डी० गुप्ता