सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

पीड़ित की व्यथा को संज्ञान में लेना सत्ता का नशा नहीं- रानू

Kunver Shailendra Singh


हरदोई- सवायजपुर विधायक माधवेन्द्र सिंह और सीओ शाहाबाद अरविन्द वर्मा के बीच हुई बातचीत का ऑडियो वायरल होने के बाद विधायक माधवेन्द्र सिंह ने अपना पक्ष रखते हुए कहा है कि जिस तरह सीओ पूरे मामले से पल्ला झाड़ ले रहे थे उस हिसाब से तो डायल 100 न हुआ सुप्रीम बॉस हो गया , कुछ भी कर लेंगे , वो भी ये कह सकते थे कि मामले को पता कराता हूँ और जिसने अन्याय किया होगा उस पर कार्यवाही होगी , मेरे लिए अपने किसी शिकायत कर्ता की शिकायत और तकलीफ़ का संज्ञान लेना सत्ता का नशा नही , आम जनो की तकलीफ को महसूस करना है बिना मसले को समझे उसे नकारात्मक रूप में पेश करना ठीक नही , विधायक माधवेन्द्र प्रताप सिंह का इस मसले पर ये भी कहना है कि मामला राजनैतिक है , पीड़ित हरिजन की पिटाई सपा के कुछ दबंगों ने की थी जिसकी शिकायत उसने डायल 100 पर की पर डायल 100 वाले उलटा पीड़ित को ही उठा ले गए जिसकी गुहार पीड़ित के परिजनो ने विधायक से लगाईं सो उन्होंने तुरंत संज्ञान लिया , उन्होंने कहा कि ये सरकार आम लोगो की सरकार है , हर वर्ग की सरकार है जो भी अधिकारी सपा के एजेंट की तरह काम करेगा और इस तरह से जिम्मेदारी से भागने की कोशिश करेगा , बरगलाने की कोशिश करेगा उन्हें जबाब देना पड़ेगा ।