मतदान आपकी जिम्मेदारी, ना मज़बूरी है। मतदान ज़रूरी है।

पड़ोसी देशों में भी दिखी भारत के स्वतंत्रता दिवस की धूम

15 अगस्त 2021 को भारत ने अपना 75वां स्वतंत्रता दिवस मनाया, जिसकी धूम इस बार पड़ोसी देशों में भी देखने को मिली। इसमें सबसे बड़ी भूमिका भारतीय विदेश मंत्रालय और इन देशों में स्थित उसके दूतावासों ने निभाई। भूटान, बांग्लादेश, नेपाल, श्रीलंका और म्यांमार जैसे देशों में आजादी का अमृत महोत्सव के तहत विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

आजादी का अमृत महोत्सव के तहत विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों का किया गया आयोजन

भारत के आजादी के पर्व पर भूटान में एक सप्ताह तक विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। जिसके तहत भारतीय दूतावास की इमारत को तिरंगे की रंग की लाइटों से सजाया गया। साथ ही युवा भटानी नागरिकों के लिए ”मेरे लिए भारत का क्या अर्थ है” विषय पर लघु वीडियो प्रतियोगिता आयोजित की गई। जिसमें भूटानी युवाओं ने बहुत ही खूबसूरत क्लिप भेजी। इसके अलावा भारत के लिए भूटान’ गाने वाले भूटानी बैंड ने कई देशभक्ति गीतों पर प्रस्तुति दी।

भारतीय उच्चायोग की देखरेख में श्रीलंका में भी कई महत्वपूर्ण इमारतों को तिरंगे की रौशनी से सजाया गया। जिनमें ताज समुद्रम होटल, जाफना कल्चर सेंचर से लेकर रबिंद्रनाथ टैगोर ऑडिटोरियम शामिल थे। इस दौरान विशेष प्रार्थना सभा का भी आयोजन भी किया गया। इसके अलावा यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर की सूचि में शामिल प्रसिद्ध गाले फोर्ट और भारतीय उच्चायोग को भी तिरंगे के रंग में सजाया गया था। इस प्रार्थना सभा में परम धम्म चित्या पिरिवेना के बौद्ध धर्म के अनुयायियों ने भगवान बुद्ध के उपदेश दिए साथ ही साथ और भारत, श्रीलंका और दुनिया भर के लोगों पर भगवान बुद्ध के आशीर्वाद बनाए रखने की प्रार्थना की।

वहीं भारत के पड़ोसी देश नेपाल आजादी में आजादी के अमृत महोत्सव पर इंडिया@75 की थीम पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान युद्ध की विभीषिका को झेल चुकी महिलाओं के सम्मान में ‘वीर नारी’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान किताबें भी बांटी गई और नेपाली मीडिया में टॉक शो भी आयोजित किए गए।

म्यांमार में भी भारतीय मिशन ने सित्तवे के आइकॉनिक कालांदन मल्टीमॉडल ट्रांसिट को बेहद खूबसूरती के साथ सजाया। वहीं बांग्लादेश हाईकमीशन ने आजादी के अमृत महोत्सव पर कई सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए। जिसमें बांग्लादेश के जाने माने कलाकारों ने शिरकत की। इस दौरान ‘भारत के विकास और उपलब्धियां’ विषय पर सेमिनार भी आयोजित किया गया।

बता दें कि इस बार 15 अगस्त को भारत ने अपनी आजादी का 75वां पर्व मनाया। इसको लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 12 मार्च 2021 को ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ अभियान शुरू किया था। यह वही तारीख है, जिस दिन राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने 1930 में दांडी यात्रा शुरू की थी। 12 मार्च 2021 से प्रारम्भ हुआ यह अभियान 15 अगस्त 2023 तक चलेगा।


(रिपोर्ट: शाश्वत तिवारी)