सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

अधिकारी मानसिकता में परिवर्तन लाते हुये सकारात्मक सोच के साथ दायित्वों का निर्वहन ईमानदारी से करें

प्रदेश के राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सैनिक कल्याण, खाद्य प्रसंस्करण, होमगार्ड्स, प्रान्तीय रक्षक दल, नागरिक सुरक्षा अनिल राजभर की अध्यक्षता में जिला योजना समिति की बैठक विकास भवन के स्वर्ण जयंती सभागार में हुई। प्रभारी मंत्री ने कहा कि अधिकारी मानसिकता में परिवर्तन लाते हुये सकारात्मक सोच के साथ दायित्वों का निर्वहन ईमानदारी से करें। ताकि, जनमानस को परिवर्तन का अहसास हो कि उनके कार्य प्राथमिकता से हो रहे है।

राजभर ने कहा कि प्रायः देखने में आया है कि कार्ययोजनायें समन्वय नहीं होने के कारण समय पर धरातल पर नहीं दिखती और उसका लाभ आमजन को नहीं मिल पाता। अब यह स्थिति नहीं दिखनी चाहिए। कहा कि जन शिकायतों का निराकरण समय से और गुुणवत्तापूर्ण हो। ताकि, फरियादियों को शिकायतों के निराकरण के लिए लखनऊ के चक्कर न लगाने पड़े।

राजभर ने कहा कि जिले में जो भी कार्य योजनायें बनें, उनके बारे में जन प्रतिनिधियों से विचार-विमर्श करने के बाद अन्तिम रूप दिया जाये। अधिकारी और जन प्रतिनिधियों के समन्वय से जो कार्य योजना तैयार होगी उसे धरातल पर लाने की जिम्मेदारी भी सभी की होगी। नमामि गंगे और स्वच्छ भारत मिशन को केन्द्र और प्रदेश सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता वाली योजना बताया। कहा कि इनको समय से अमली जामा पहनाना आवश्यक है। दिसम्बर तक प्रत्येक गांव को खुले में शोैच से मुक्त करने को कहा। यह भी कहा कि 15 जून तक जनपद की सड़कों को हर हाल में गढ्डा मुक्त कर लिया जाये।

राजभर ने कहा कि शासन की मंशा है कि अधिक से अधिक नवयुवकों को रोजगार से जोड़ा जाये। इसके लिये सरकार उद्यम लगाने को प्रोत्साहित कर रही है। अपना उद्योग लगाने के लिए आने वाले उद्यमियो को हर तरह का सहयोग और प्रोत्साहन जिला प्रशासन की ओर से दिया जाए, ताकि बेरोजगारी दूर हो सके। जन प्रतिनिधियों ने अपने-अपने क्षेत्रों की समस्याओं को सदन में रखा, जिसके निराकरण को मंत्री ने जिलाधिकारी से कहा।

बैठक में जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना ने सदन को आश्वस्त किया कि कार्यक्रमों का ज़मीनी क्रियान्वयन कराया जायेगा। मुख्य विकास अधिकारी राधेश्याम ने सदन के प्रति आभार प्रकट किया। बैठक में सांसद अंशुल वर्मा व अन्जूबाला, विधायक माधवेन्द्र प्रताप सिंह, रजनी तिवारी, श्याम प्रकाश, प्रभाष कुमार, आशीष सिंह ‘आशू’ और राजकुमार अग्रवाल मौजूद रहे।

-अंतर्ध्वनि एन इनर वॉइस