सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

लेफ्टिनेंट उमर फैयाज़ के हत्यारों की तलाश के लिए बड़े स्तर पर खोजी अभियान जारी

जम्‍मू-कश्‍मीर के कुलगाम में सैन्य अधिकारी लेफ्टिनेंट उमर फैयाज़ के हत्यारों की तलाश के लिए बड़े स्तर पर खोजी अभियान जारी है।फय्याज का अंतिम संस्‍कार कल पूरे सैनिक सम्‍मान के साथ कुलगाम जिले में उनके पैतृक गांव में कर दिया गया । इस अवसर पर पुलिस और सेना के वरिष्‍ठ अधिकारी मौजूद थे। लेफ्टिनेंट उमर अपने रिश्‍तेदार के यहां शादी में गये थे जहाँ आतंकवादियों ने अपहरण के बाद उनकी हत्‍या कर दी थी। बुधवार सुबह शौपियां जिले में हरमैन क्षेत्र में उनका शव पाया गया था ।

रक्षा मंत्री अरूण जेटली ने इसे कायरतापूर्ण कार्रवाई की निंदा करते हुए कहा कि लेफ्टिनेण्ट उमर का बलिदान घाटी से आतंकवाद के खात्‍मे की देश की प्रतिबद्धता दोहराता है। फयाज  पिछले साल दिसंबर में ही सेना में लेफ्टिनेंट बने थे ।

जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने उमर फैयाज की हत्या की निंदा की है ।

लेफ्टिनेंट उमर फयाज कुलगाम जिले के फयाज इन्फन्ट्री में थे और जम्मू के अखनूर इलाके में तैनात थे। सेना ने भी उमर की मौत पर दुख जताते हुए दोषियों को सजा देने का संकल्प लिया है और कहा है कि ‘सेना बहादुर सैनिक को सलाम करती है और इस दुख की घड़ी में उनके परिवार के साथ खड़ी है। हम इस नृशंस आंतकी घटना के अपराधियों को न्याय के दायरे में लाने के लिए प्रतिबद्ध है।’

उधर पाकिस्तान की ओर से घुसपैठ की कोशिशेंलगातार जारी हैं । कश्मीर के बारामुला जिले में नियंत्रण रेखा पर आतंकवादियों द्वारा घुसपैठ की कोशिशों को सेना ने  विफल कर दिया है। सेना के इनुसार देर रात  आतंकवादियों का एक दल भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ करने का प्रयास कर रहा था तभी सेना के जवानों ने उन पर फायरिंग की और उनको वास्तविक नियंत्रण रेखा पर वापस जाने के लिए विवश कर दिया।