24 घंटे से अधिक थाने पर रखी रही बालिका की लाश

हरदोई- बिलग्राम पुलिस की लापरवाही के चलते एक बालिका के शव का 24 घंटे बाद पंचनामा भरा गया। पंचनामा भरे जाने के बाद शव का मौत के तीसरे दिन पोस्टमार्टम कराया गया है। इस मामले से मृतका के परिजनो में नाराजगी है। हादसे से पूरे परिवार सदमे में है।

बिलग्राम थाना क्षेत्र के दौलतपुर गांव निवासी धरमू की पुत्री कोमल (8) परिजनो के अनुसार अपने नाना सुखवासी के पास दिवालीपुरवा गांव में रहती थी। जहां पर सोमवार को उसकी मां रूपा आई। बालिका अपनी मां के साथ राजघाट पर स्नान करने गई। जहां से उसी दिन देर शाम घर के लिए वापस निकली। बिलग्राम कस्बे में टैंपों से उतरने पर अचानक तेज रफ्तार कार ने बालिका को कुचल दिया। जिससे वह गंभीर रूप से जख्मी हो गई। परिजन उसे इलाज के लिए सीएचसी ले गए, जहां से जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। जिला अस्पताल में बालिका की हालत नाजुक बताकर चिकित्सकों ने मेडिकल कॉलेज रेफर किया। रास्ते में ही उसी रात बालिका की मौत हो गई। कोमल की मौत के बाद परिजन उसके शव गांव ले गए। जहां से इसकी जानकारी इलाकाई पुलिस को दी। परिजनो का आरोप है कि पुलिस ने स्टाफ की कमी बताते हुए जल्द ही पंचनामा भरे जाने की बात कही। परिजन शव को थाने ले गए। जहां पर बुधवार की सुबह शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। देर शाम पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनो के सुपुर्द कर दिया गया। मृतका के परिवार में बड़ी बहन अंजली व भाई रोहन बताया गया। वह कक्षा 1 की छात्रा थी।

url and counting visits