कर्म निष्ठा के साथ परमेश्वर का ध्यान ज़रूरी : श्री सुधांशु जी महाराज

पटियाला- धर्मनिष्ठा में रत हों या कर्मनिष्ठा में संलग्न हों, हर समय परमपिता परमेश्वर का ध्यान करने से व्यक्ति सफलता के चरमोत्कर्ष पर पहुँच जाता है। यह ध्यान योग साधक को प्रभु के समीप लाता है, टूटे दिलों को जोड़ देता है, बिछुडों को मिलाने का संयोग बना देता है। ध्यान योग में बड़ी ताक़त है। यह योग ज्ञान प्रदाता है, दुर्भाग्यनाशक है, ममता के पाश का निवारक है। यह योग प्रक्रिया व्यक्ति को बहिरंग से अन्तरंग की ओर ले जाती है और जन्म-मरण के आवागमन से मुक्त करती है। ध्यान योग को जीवन का अंग बनाने पर मनुष्य कृतकृत्य हो उठता है, इससे आत्मा का परमात्मा से मिलना सहज हो जाता है।
यह बात आज शाम पटियाला के वीर हक़ीक़त राय ग्राउण्ड में आरम्भ हुये विराट भक्ति सत्संग महोत्सव की व्यासपीठ से प्रख्यात चिन्तक, विचारक व राष्ट्रसन्त सदगुरु श्री सुधांशु जी महाराज ने कही। भावना की महत्ता पर विस्तार से प्रकाश डालते हुये उन्होंने कहा कि भावना साधक को बड़ी ऊँचाइयों पर पहुँचाती है। महर्षि पतंजलि के अष्टाँग योग के प्रत्याहार का उन्होंने विस्तार से विवेचन किया और कहा कि यम, नियम, आसन, प्राणायाम के बाद प्रत्याहार के नियम का पालन आकर्षण को विकार्शण में बदल देता है, जिसकी साधना साधक को गहरे ध्यान में उतारती है। ध्यान के अगले चरण धारणा और समाधि हैं, जहाँ तक पहुँचने से मानव को जीवन लक्ष्य की प्राप्ति हो जाती है।
इसके पूर्व श्री सुधांशु जी महाराज ने विराट भक्ति सत्संग महोत्सव का उदघाटन दीप प्रज्वलित करके किया, जिसमें पंजाब सरकार के स्वास्थ्य मन्त्री श्री ब्रह्म महिन्द्रा भी साथ रहे। उन्होंने अपनी भाव-अभिव्यक्ति करते हुये कहा कि १७ वर्ष पूर्व गुरुदेव सुधांशु जी  महाराज से जुड़ने के  बाद मेरा जीवन धन्य हुआ है और मेरे जीवन में जो कुछ विशेष है, वह गुरुवर का ज्ञान-प्रसाद ही है। उन्होंने कहा कि सत्संग महोत्सव में चार दिनों तक उनसे जीवन साधना के वेशक़ीमती सूत्र सीखकर पंजाबवासी निहाल हो सकेंगे। स्वास्थ्य मन्त्री ने महाराजश्री का अभिनंदन माल्यार्पण एवं अंगवस्त्र भेंट कर किया। विश्व जागृति मिशन के पटियाला मण्डल  के उप प्रधान श्री प्रदीप गर्ग ने बताया कि विराट भक्ति सत्संग का समापन 19 नवम्बर को होगा।
आज उद्घाटन सत्र में पटियाला  के अलावा संगरूर, मलेर-कोटला, गोविन्दगढ़, लुधियाना, सरहिन्द एवं कैथल-(हरियाणा) आदि अंचलों के कई हज़ार लोग मौजूद थे। अकाली दल के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मन्त्री श्री सुरजीत सिंह रखडा, स्वास्थ्य मन्त्री की धर्मपत्नी श्रीमती हरप्रीत महिन्द्रा, पंजाब कांग्रेस कमेटी के ज़िला उपाध्यक्ष अमरप्रीत सिंह बॉबी, व्यापार मण्डल के अध्यक्ष श्री राकेश गुप्ता, मिशन के प्रधान श्री अजय कुमार अलीपुरिया, कोषाध्यक्ष श्री राज कुमार अरोड़ा, विशाल पेपर मिल के प्रमुख श्री विद्या सागर सहित अनेक गण्यमान व्यक्ति भी सत्संग में मौजूद रहे। सत्संग सभा का संचालन विश्व जागृति मिशन के निदेशक राम महेश मिश्र ने किया। इस मौक़े पर धर्माचार्य अनिल झा के नेतृत्व में आनन्दधाम नई दिल्ली से आयी संगीत टोली के सदस्यों ने कई भजन प्रस्तुत किए।
url and counting visits