मतदान आपकी जिम्मेदारी, ना मज़बूरी है। मतदान ज़रूरी है।

आपराधिक वारदात में एक महीने के ज्यादा समय के बाद भी नहीं हुई गिरिफ्तारियां

मालूम हो कि 24/5/2021 को ग्राम सभा बर्रा के पांडे का पुरवा में लड़कियों को लेकर दो पक्ष आपस में भिड़ गए थे। दोनों पक्षों में जमकर लाठी-डंडा और लात घूंसे चले थे। यहाँ तक कि एक को बंदी बना लिया गया था और पांच लोग घायल हो गए थे। घायलों के नाम अर्चना पांडे पत्नी कृष्ण कुमार पांडेय, लड़की सुवांगी पांडे उम्र १५ वर्ष, रत्नाकर पांडे उम्र ३२ वर्ष, दूधनाथ पांडे आदि घायल हो गए थे। जिसको लेकर एसपी के आदेश से तीर्थराज पांडे, धुव्रराज पांडे, रामदुलारे पांडे, अशोक पांडे, मनीष पांडे के पर 307 आईपीसी व अन्न धाराओं में जामो थाना में मुकदमा दर्ज किया गया था। मगर एक माह के ऊपर बीत गया, जामो पुलिस ने कोई गिरिफ्तारी नहीं की।

जामो पुलिस पर शक जाहिर करते हुए कृष्ण कुमार पांडे ने इसकी शिकायत जिलाधिकारी महोदय अमेठी से की है और इसकी विवेचना अपराध शाखा को देने की अपील की है। अपने प्रार्थनापत्र मे सीधा जामो पुलिस के ऊपर अरोप लगाते हुए कहा कि सभी मुजरिमों का चौकी प्रभारी पारस नाथ यादव गौरियाबाद के साथ बैठना-उठना बराबर चल रहा है।