सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

फ़ौज़ में एक सेंटीमीटर लम्बाई कम हो तो उसकी भर्ती नहीं होती, तो मैं बगैर सिर का अपना भाई कैसे ले लूं

आदित्य त्रिपाठी (प्रबन्ध सम्पादक www.indianvoice24.com)-


पाकिस्‍तान की हरकत को कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने भी शर्मनाक और कायरतापूर्ण कार्रवाई बताया है। उन्‍होंने नई दिल्‍ली में कहा है कि इसका समुचित जवाब दिया जाएगा, सरकार अपने सैनिकों का बलिदान व्‍यर्थ नहीं जाने देगी। सीमा सुरक्षा बल ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में कल भारतीय सैनिकों पर सीमा पार से हुआ हमला पाकिस्तानी सेना की सोची-समझी साजिश थी। जम्मू में बीएसएफ की पश्चिमी कमान के अतिरिक्त महानिदेशक के. एन. चौबे ने बताया कि ये कार्रवाई तालमेल के साथ की गई थी। इस बीच, शहीद हुए नायब सूबेदार परमजीत सिंह का आज पंजाब के तरनतारन जिले में उनके पैतृक गांव में पूरे राजकीय सम्‍मान के साथ अंतिम संस्‍कार कर दिया गया।

इस अनहोनी के बाद शहीद परमजीत सिंह के भाई रंजीत सिंह ने जो कहा, वह बड़े से बड़ा नेता या सुरक्षा विशेषज्ञ नही कह सकता। असल में यह वह कड़वी सच्चाई है जिससे हम सब नज़रे चुराते दिखायी देते हैं ।

1.  जब फ़ौज़ में एक सेंटीमीटर लम्बाई कम हो तो उसकी भर्ती नही होती, तो मैं बगैर सिर का अपना भाई कैसे ले लूं?

2. हर सांसद और मंत्री के बेटे की फ़ौज़ में भर्ती अनिवार्य कर दो, कभी पाकिस्तान से गोली नही चलेगी, तोहफे आएंगे।

3. आरपार की लड़ाई की बात करने वाले धोती बांध कर एसी में बैठते है, वे क्या जाने सेना का काम। अभी तो पाकिस्तान आर ही कर रहा है- संसद, उड़ी, पठानकोट, सैनिकों की गर्दन काटना, सभी उसने घर आकर किया है, पार जा कर तो हमने ऐसा कुछ किया नही (सर्जिकल स्ट्राइक में भी हम रहे तो भारतीय सरज़मीन पर)।

मैं साथियों से अपील करता हूँ कि पाकिस्तान सरकार पर दवाब के लिए यह कदम उठाए जाएं…

1. संसद का विशेष सत्र बुला कर उसका मोस्ट फेवरेट नेशन का दर्जा समाप्त हो।

2. संसद में एक मत हो कर पाकिस्तान को आतंकी राष्ट्र घोषित कर, सभी मित्र देशों के पास सर्वदलीय प्रतिनिधि मंडल भेज कर इसका दवाब बनाया जाए। भारत सरकार तथ्यों के साथ एक घंटे का मल्टी मीडिया प्रेजेंटेशन बनाये, उसका दुनिया की भाषाओं में अनुवाद हो और सभी देशों के दूतावासों में इसका प्रदर्शन हो।

3. पाकिस्तान को हर दिन जा रहे 300 ट्रक की तिजारत बंद हो। बिड़ला, अडानी, जिंदल के पाकिस्तान में चल रहे सभी प्रोजेक्ट बन्द हों।