जनपद हिन्दू व मुस्लिम एकता की मिसाल, इसे कायम रखना सबकी जिम्मेदारीः-मीरा अग्रवाल

राष्ट्रीय एकता, भाईचारा, धर्म निरपेक्षता, लोकतंत्र की भावना बढ़ाने तथा साम्प्रदायिक एकता एवं सौहार्द पूर्ण वातावरण निरन्तर कायम रखने हेतु गठित जिला एकीकरण समिति की बैठक विकास भवन के स्वर्ण जयंती सभागार में जिला पंचायत अध्यक्ष मीरा अग्रवाल की अध्यक्षता में आहूत की गयी।
बैठक को सम्बोधित करते हुए अध्यक्ष ने कहा कि समाज भाईचारा, धर्म निरपेक्षता एवं सौहार्द पूर्ण वातावरण कायम रखने के लिए कार्य करने की जिम्मेदारी है जिसे हम सभी को ईमानदारी से निभानी है। उन्होने कहा कि समाज में फैल रही कुरीतियों पर विशेष ध्यान देकर इन्हें दूर करने के सम्बन्ध में लोगों को जागरूक करे। अध्यक्ष ने कहा कि हमारा जनपद हिन्दू मुस्लिम एकता की मिसाल है और हम सभी को इसे कायम रखना है।
बैठक में समिति के सचिव जिला विकास अधिकारी ने जिला पंचायत अध्यक्ष एवं अन्य आये हुए समिति के सदस्यों का आभार व्यक्त करते हुए उपस्थित अधिकारियों से कहा कि समिति के सदस्यों द्वारा बैठक में जिन योजनाओं एवं समस्याओं से अवगत कराया गया है उन पर तत्काल अमल किया जाये। बैठक में सदस्य वन्दना बाथम ने स्वयं सहायता समूह बनाने की जानकारी करने पर डीसी एनआरएलएम ने सदस्यों को समूह गठन की विस्तार से जानकारी तथा कहा कि नगर व गांव की महिलायें समूह बनाकर कार्य करे तो उनकी आर्थिक स्थित में सुधार होगा। सदस्य शिव शंकर पाण्डेय ने समिति गांव के अधिकतर लोग अपने बच्चों की शिक्षा पर ध्यान नहीं देते इसके लिए सामाजिक जागरूकता फैलाकर लोगों को बच्चों को स्कूल भेजने के लिए प्रेरित किया जाये। सदस्य डा0 सौरभ दयाल ने कहा कि समाज में सौहार्द बनाये रखने के लिए सामाजिक एकता बहुत जरूरी है और हमे अपने जनपद की एकता को बनाये रखना हैं।
बैठक में अपर पुलिस अधाीक्षक ने उपस्थित सदस्यों से कहा कि सभी लोग एक-एक वृक्ष लगाये जो वटवृक्ष के रूप में बढ़े जिसे राष्टीय एकता का नाम दिया जाये। बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी एस0के0 रावत, अपर पुलिस अधीक्षक कुं0 ज्ञानञ्जय सिंह, सहायक निदेशक सूचना कुमकुम शर्मा सहित समिति के सदस्य एवं धर्म गुरू आदि मौजूद रहे।
url and counting visits