सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

स्पेक्ट्रम हाई फार्मेसी कॉलेज में मनाया गया फार्मेसी सप्ताह, व्याख्यान एवं प्रतियोगिताएँ आयोजित

जमौली, कूरेभार स्थित स्पेक्ट्रम हाई फार्मेसी कॉलेज में राष्ट्रीय फार्मेसी सप्ताह मनाया गया। इस अवसर पर संस्थान में फार्मा क्विज, रंगोली प्रतियोगिता एवं विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। फार्मेसी सप्ताह के समापन के अवसर पर “स्मार्ट फ़ोन एवं आईटी तकनीकी का फार्मेसी शिक्षा में उपयोग” विषय पर व्याख्यान का आयोजन भी किया गया।

कार्यक्रम की शुरुआत सरस्वती वंदना एवं दीप प्रज्वलन से हुई। स्पेक्ट्रम हाई फार्मेसी कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ नीलकंठ मणि पुजारी ने अतिथियों का स्वागत पुष्पगुच्छ एवं तुलसी का पौधा भेंट देकर किया।

डॉ० नीलकण्ठ ने सभी को संबोधित करते हुए कार्यक्रम की भूमिका रखी और राष्ट्रीय फार्मेसी सप्ताह मनाए जाने के उद्देश्य से छात्रों को अवगत कराया। कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में उपस्थित इंस्टिट्यूट ऑफ फार्मास्यूटिकल साइंसेस, अवध विश्वविद्यालय, अयोध्या के एसोसिएट प्रोफेसर एवं विभागाध्यक्ष डॉ सत्य प्रकाश सिंह ने छात्रों को स्मार्ट फ़ोन को अपनी नित्य शिक्षा में उपयोग करने की टिप्स दिए और तुरंत कार्यशाला के माध्यम से उन्हें उसका उपयोग भी सिखाया। डॉ सत्य प्रकाश में इनफार्मेशन एंड कम्युनिकेशन टूल्स और तकनीक से भी विस्तार में छात्रों और शिक्षकों को अवगत कराया। संस्थान के प्रिंसिपल डॉ नीलकण्ठ एवं डायरेक्टर डॉ आशीष दीक्षित ने स्मृति चिह्न देकर कार्यक्रम के मुख्य वक्ता डॉ सत्य प्रकाश सिंह को सम्मनित किया।

स्पेक्ट्रम ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशन्स के संस्थापक राम किशोर पांडेय ने विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग लेने वाले छात्रों को चॉकलेट देकर शुभाशीष दिया और विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया। उन्होंने कहा कि सभी छात्रों का प्रयास सराहनीय रहा। प्रतियोगिता से सीखने का भी अवसर मिलता है और संस्थान इस दिशा में नियमित आयोजन करता रहता है।

संस्थान के डायरेक्टर डॉ आशीष दीक्षित ने छात्रों को फार्मेसी सप्ताह के आयोजन के लिए सभी शिक्षकों एवं छात्रों को शुभकामनाएं दीं और कहा ऐसे आयोजनों से फार्मेसी से जुड़ें अन्याय आयामों से भी छात्र रूबरू हो पाते हैं। कार्यक्रम का समापन सभी ने सामूहिक फार्मासिस्ट शपथ लेकर किया ।