सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

लोगों का जीवन स्‍तर सुधारने का एकमात्र उपाय विकास ही है : प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी

झारखंड के साहिबगंज में प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने मल्‍टी मोडल टर्मिनल और कई विकास परियोजनाओं के साथ गंगा नदी पर बनने वाले चार लेन के पुल की आधारशिला रखी। श्री मोदी ने शिलान्‍यास करने के बाद कहा कि इन परियोजनाओं से झारखंड के लोगों को रोजगार मिलेगा और कुशलता विकास की प्रक्रिया भी तेज होगी। उन्‍होंने कहा कि राज्‍य के लोगों का जीवनस्‍तर सुधारने का एकमात्र उपाय विकास ही है। उन्‍होंने कहा कि सरकार विकास के माध्‍यम से जनजातीय समुदायों की मदद करना चाहती है और विकास की गति तेज होगी तो लोगों का सशक्‍तिकरण भी तेजी से हो सकेगा।

आपकी समस्‍याओं का समाधान करना है, पूरे सांथाल इलाके का अगर भला करना है, यहां के गरीब से गरीब मेरे आदिवासी भाई-बहन, मेरे पिछड़े भाई-बहन, अगर इनकी जिन्‍दगी में बदलाव लाना है तो उसका एक ही उपाय है और वो उपाय है विकास। जितना तेज गति से हम विकास यहां करेंगे यहां के जनसामान्‍य की जिन्‍दगी बदलने में हम सफल होंगे।  प्रधानमंत्री ने कहा कि संथाल परगना क्षेत्र के फायदे के लिए कई विकास कार्य शुरू किए जा रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि इस इलाके का तेजी से विकास होने पर लोगों की मुश्‍किलें भी खत्‍म हो जायेंगी। श्री मोदी ने राज्‍य के लोगों के कुशलता विकास पर भी जोर दिया। आज झारखंड में साहिबगंज की धरती पर एक साथ सप्‍तधारा विकास की योजनाओं का शुभारंभ हो रहा है। सांथाल परगने में, इस इलाके में एक साथ इतनी बड़ी विकास की योजनाएं शायद आजादी के बाद किसी एक कार्यक्रम के तहत इस क्षेत्र के विकास के लिए उठाए कदम पहली बार होते होंगे ऐसा मैं मानता हूं।

मल्‍टी मोडल परिवहन टर्मिनल के बारे में श्री मोदी ने कहा कि गंगा नदी पर इस इलाके की यह सबसे बड़ी परियोजना है और इससे बिहार और झारखंड जुड़ जायेंगे। दो अरब अस्‍सी करोड़ रूपये की लागत से बनने वाला यह अत्‍याधुनिक टर्मिनल वाराणसी से हल्‍दिया तक रार्ष्‍टीय जलमार्ग संख्‍या-एक के विकास में महत्‍वपूर्ण हिस्‍सा साबित होगा। इस जलमार्ग का विकास विश्‍वबैंक की तकनीकी और आर्थिक सहायता से किया जा रहा है।  इस पर 54 अरब रूपये खर्च होंगे। प्रधानमंत्री ने गंगा नदी पर बनने वाले चार लेन वाले पुल की आधारशिला भी रखी, जिसके बन जाने से झारखंड से बिहार, उत्‍तरी बंगाल और पूर्वोत्‍तर तक कम फासले वाला रास्‍ता बन जायेगा। यह सिर्फ दो राज्‍यों को ही जोड़ता है ऐसा नहीं है ये विकास के नए द्वार को खोल देता है आप यहां से पूर्वी भारत के विशाल फलक के साथ अपने आपको सीधा जोड़ने का इस ब्रिज के बनने से आपको अवसर मिल रहा है। प्रधानमंत्री ने गोविंदपुर-जामताड़ा-दुमका-साहिबगंज राजमार्ग का उदघाटन भी किया। श्री मोदी ने साहिबगंज जिला न्‍यायालय परिसर और साहिबगंज जिला अस्‍पताल में बनी राष्‍ट्रीय सौर ऊर्जा सुविधाएं राष्‍ट्र को समर्पित कीं। प्रधानमंत्री ने लैस कैश झारखंड योजना के तहत एक लाख महिला उद्यमियों को स्‍मार्टफोन वितरित किए। इस अवसर पर केन्‍द्रीय मंत्री नीतिन गडकरी, झारखंड की राज्‍यसपाल द्रौपदी मुर्मु और मुख्‍यमंत्री रघुवर दास तथा झारखंड उच्‍च न्‍यायालय के मुख्‍य न्‍यायाधीश पी के मोहन्‍ती भी मौजूद थे।