देश के विकास के लिए भागीदारीपूर्ण लोकतंत्र अनिवार्य

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि देश के विकास के लिए भागीदारीपूर्ण लोकतंत्र अनिवार्य है। कल शाम नई दिल्ली में प्रशासनिक सेवा दिवस के अवसर पर सरकारी अधिकारियों को संबोधित करते हुए श्री मोदी ने कहा कि भारत जैसे देश की सफलता में जनता की भागीदारी बुनियादी भूमिका निभा सकती है। उन्होंने कहा कि लोगों को सभी फैसलों के केन्द्र में रखकर उनके जीवन में बदलाव लाया जा सकता है।

एक सामान्‍य मानवीय को सरकार के साथ हर पल जद्दोजहद रहती है और ये सबसे बड़ी रूकावट है इज ऑफ लाइफ के बीच में। अगर हम इतना सा कर लेंगे उसके हक के लिए उसे मांगना न पड़े। मैं समझता हूं कि सवा सौ करोड़ देशवासियों की जिंदगी में जो बदलाव आएगा उसको देश को बदलने में समय नहीं लगेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि आम लोगों का जीवन सुविधाजनक बनाना उनकी सरकार की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि नवाचार और प्रौद्योगिकी को देश की अतिरिक्त ताकत बनाया जा सकता है। दुनि‍या में टैक्‍नोलॉजी के साथ अगर कदमताल नहीं कर पायेंगे तो शायद हम बहुत पीछे रह जाएंगे। प्रधानमंत्री ने प्राथमिक कार्यक्रमों और नवाचार को कारगर ढंग से लागू करने के लिए उत्कृष्टता पुरस्कार प्रदान किए।

url and counting visits