सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

अंतर्राष्‍ट्रीय महिला दिवस के मौके पर राष्‍ट्रपति और प्रधानमंत्री ने दी शुभकामनाएं

आज अंतर्राष्‍ट्रीय महिला दिवस है। सप्‍ताह भर के प्रदर्शन के बाद आज ही के दिन आठ मार्च 1917 को रूस में पहली बार महिलाओं को वोट देने का अधिकार मिला था तथा बाद में सन् 1975 को संयुक्‍त राष्‍ट्र ने पहली बार अंतर्राष्‍ट्रीय महिला दिवस मनाया था।

अंतर्राष्‍ट्रीय महिला दिवस के मौके पर राष्‍ट्रपति और प्रधानमंत्री ने शुभकामनाएं दी हैं। राष्‍ट्रपति ने कहा कि देश की प्रत्‍येक बालिका को इस बात का भरोसा होना चाहिए कि सरकार उसे विकास के लिए अनुकूल वातावरण और समान अवसर उपलबध कराने के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है तथा यह भी कहा कि लड़का-लड़की के बीच भेदभाव का आधुनिक भारत में कोई स्‍थान नहीं है। श्री मुखर्जी ने महिलाओं के प्रति बढ़ते हिंसक अपराधों पर चिंता जताई। राष्‍ट्रपति ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि प्रत्‍येक बालिका को प्राथमिक शिक्षा मिलें।

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने नारी शक्ति के अदम्‍य साहस, दृढ़ संकल्‍प और समर्पण को नमन किया है।