संजय सिंह, सांसद, आप ने पेयजल एवं स्वच्छता मिशन पर उठाए सवाल! | IV24 News | Lucknow

रक्षा अलंकरण समारोह सम्पन्न : भारत अपने वीरों की वीरता के कारण ही अक्षुण्ण और दुर्धर्ष

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आज राष्‍ट्रपति भवन में आयोजित रक्षा अलंकरण समारोह में सशस्‍त्र बलों के कर्मियों को वीरता पुरस्‍कार और विशिष्‍ट सेवा अलंकरण से सम्‍मानित किया।

राष्‍ट्रपति ने कर्तव्‍य के प्रति अदम्‍य साहस तथा समर्पण का प्रदर्शन करने के लिए अभियांत्रिकी कोर के सप्‍पर प्रकाश जाधव को जम्‍मू और कश्‍मीर में एक अभियान के दौरान आतंकवादियों की साजिशों को नाकाम करने के लिए मरणोपरांत दूसरा उच्‍चतम शांतिकाल वीरता पुरस्‍कार कीर्ति चक्र से सम्‍मानित किया गया।

असाधारण वीरता के लिए कीर्ति चक्र सप्‍पर प्रकाश जाधव, द कोर ऑफ इंजीनियरर्स फर्स्‍ट बटालियन द राष्‍ट्रीय राइफल्‍स मरणोपरांत।

मेजर विभूति शंकर ढोंडियाल को पांच आतंकवादियों का सफाया करने और दो सौ किलोग्राम विस्‍फोटक सामग्री बरामद करने में उनकी भूमिका के लिए मरणोपरांत शौर्य चक्र से सम्‍मानित किया गया। उनकी पत्‍नी लेफ्टीनेंट नितिका कौल और उनकी माताजी सरोज ढोंडियाल ने यह पुरस्‍कार प्राप्‍त किया। नायब सूबेदार सोमबीर को जम्‍मू कश्‍मीर में एक अभियान के दौरान एक खूंखार आतंकवादी को मार गिराने के लिए मरणोपरांत शौर्य चक्र से सम्‍मानित किया गया। उनकी पत्‍नी और माताजी ने यह पुरस्‍कार प्राप्‍त किया। 

पाकिस्‍तानी एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराने के लिए ग्रुप कैप्‍टन अभिनन्‍दन वर्धमान को वीर चक्र से सम्‍मानित किया गया। ज्ञात हो कि विंग कमांडर वर्धमान अभिनंदन ने अपनी व्‍यक्तिगत सुरक्षा की परवाह न करते हुए अपने कर्तव्‍य के प्रति असाधारण समर्पण तथा शत्रु के सामने अदम्‍य साहस और शौर्य का प्रदर्शन किया था। देश को ऐसे सपूतों पर गर्व है और देश ऐसे ही वीरों की वीरता के कारण अक्षुण्ण और दुर्धर्ष है।

इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, लोकसभा अध्‍यक्ष ओम बिरला और रक्षा राज्‍य मंत्री अजय भट्ट सहित अनेक महानुभाव उपस्थित रहे।